Reliance ने बनाया रिकॉर्ड: मार्केट कैप 10 लाख करोड़ रुपये के पार, इस बार भी नंबर 1

Reliance Industries Ltd (आरआईएस) हर बार की तरह इस बार भी देश में नंबर वन पर बनी हुई है। Reliance Industries के शेयर में आई तेजी की वजह से कंपनी का मार्केट कैप 10 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंच चुका है।

Published by Shreya Published: November 28, 2019 | 12:42 pm
Reliance ने बनाया रिकॉर्ड: मार्केट कैप 10 लाख करोड़ रुपये के पार, इस बार भी नंबर 1

Reliance ने बनाया रिकॉर्ड: मार्केट कैप 10 लाख करोड़ रुपये के पार, इस बार भी नंबर 1

मुंबई: Reliance Industries Ltd (आरआईएस) हर बार की तरह इस बार भी देश में नंबर वन पर बनी हुई है। Reliance Industries के शेयर में आई तेजी की वजह से कंपनी का मार्केट कैप 10 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंच चुका है। इसके साथ ही Reliance Industries ऐसा करने वाली देश की पहली कंपनी बन चुकी है। फिलहाल Reliance Industries का शेयर NSE (Nation Stock Exchange) पर 0.50 प्रतिशत से ज्यादा की तेजी के साथ बिजनेस करता दिखा। जो कि 1580 रुपये पर बना हुआ है।

यह भी पढ़ें: बहुत जरूरी ये विटामिन! अगर खाने में नहीं लेते तो हो सकती है ये गंभीर बीमारी

इसी के साथ अगर किसी इंवेस्टर का रिलायंस के आईपीओ में 10 हजार रुपये लगा है तो उसकी कुल रकम बढ़कर 2.10 करोड़ रुपये हो जाएगी। बता दें कि, Reliance के शेयर ने पिछले 42 सालों में 2,09,900 प्रतिशत का रिटर्न दिया है।

ये है देश की 10 सबसे बड़ी कंपनियों की लिस्ट-

रिलायंस इंडस्ट्रीज- मार्केट कैप-10 लाख करोड़ रुपये

टीसीएस (टाटा कंस्लटेंसी सर्विसेस)- मार्केट कैप-7.80 लाख करोड़ रुपये

HDFC बैंक- मार्केट कैप-6.95 लाख करोड़ रुपये

HUL (हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड)- मार्केट कैप-4.49 लाख करोड़ रुपये

HDFC लिमिटेड- मार्केट कैप-4 लाख करोड़ रुपये

ICICI बैंक- मार्केट कैप-3.32 लाख करोड़ रुपये

SBI- मार्केट कैप-3.09 लाख करोड़ रुपये

कोटक महिंद्रा बैंक- मार्केट कैप-3.07 लाख करोड़ रुपये

ITC (इंडियन टोबैको कंपनी)- मार्केट कैप-3.02 लाख करोड़ रुपये

इन्फोसिस- मार्केट कैप-2.95 लाख करोड़ रुपये

यह भी पढ़ें: डीएचएफएल मामले को लेकर ये क्या कह दिया सीटू ने?

शेयर में आई तेजी की वजह से Reliance Industries की मार्केट कैप 10 लाख करोड़ के पार पहुंच चुका है। ये अब तक का सबसे उच्चतम स्तर है। शेयर से एक हफ्ते में 2 प्रतिशत, एक महीने में 10 प्रतिशत, तीन महीने में 24 प्रतिशत, 9 महीने में 29 प्रतिशत और एक साल में 40 प्रतिशत बम्पर रिटर्न हुआ है।

यह भी पढ़ें: गोडसे को देशभक्त बताने पर प्रज्ञा को मिली ये बड़ी सजा, पार्टी से निकाल सकती है BJP