गोडसे को देशभक्त बताने पर प्रज्ञा को मिली ये बड़ी सजा, पार्टी से निकाल सकती है BJP

महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को संसद में बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने देशभक्त बताया था जो अब उनको यह बयान देना महंगा पड़ गया है। अब उनको इसकी सजा मिली है।

नई दिल्ली: महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को संसद में बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने देशभक्त बताया था जो अब उनको यह बयान देना महंगा पड़ गया है। अब उनको इसकी सजा मिली है।

संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी ने साध्वी प्रज्ञा को रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति से बाहर कर दिया है। इसके साथ ही सत्र के दौरान होने वाले बीजेपी संसदीय दल की बैठकों में भी साध्वी प्रज्ञा को नहीं आने का निर्देश दिया गया है।

यह भी पढ़ें…जब चिदंबरम ने पूछा- क्या कार्ति का पिता होने की वजह से हूं जेल में

मीडिया रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ पार्टी की अनुशासन समिति बड़ी कार्रवाई कर सकती है। उन्हें पार्टी से निष्कासित भी किया जा सकता है।

बीजेपी के कार्यवाहक अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि संसद में कल का उनका बयान निंदनीय है। बीजेपी कभी भी इस तरह के बयान या विचारधारा का समर्थन नहीं करती है। उन्होंने कहा कि प्रज्ञा संसद सत्र के दौरान बीजेपी संसदीय दल की बैठक में हिस्सा नहीं ले सकेंगी।

यह भी पढ़ें…पाकिस्तान तिलमिला उठा! जब कश्मीरी हिंदुओं पर आया ये बड़ा बयान

हालांकि, लोकसभा की कार्यवाही से प्रज्ञा के इस बयान को हटा दिया गया है। बाद में प्रज्ञा ठाकुर ने सफाई में कहा कि उन्होंने गोडसे नहीं, उधम सिंह का जिक्र आने पर ए. राजा को टोका था।

ये है पूरा मामला

लोकसभा में एसपीजी अमेंडमेंट बिल पर चर्चा के दौरान डीएमके के सांसद ए. राजा गोडसे के एक बयान का हवाला दे रहे थे कि उसने महात्मा गांधी को क्यों मारा तो साध्वी प्रज्ञा ने उन्हें टोक दिया। साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि आप एक देशभक्त का उदाहरण नहीं दे सकते। हालांकि प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान को लोकसभा के रिकॉर्ड से हटा दिया गया।

यह भी पढ़ें…आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर भीषण हादसा, कई लोगों की मौत, 30 घायल

पहले भी गोडसे को बताया था देशभक्त

इसस पहले भी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था। लोकसभा चुनाव के दौरान भी उन्होंने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था। प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान पर पीएम मोदी ने भी नाराजगी जताई थी। पीएम ने कहा था कि भले ही इस मामले में साध्वी प्रज्ञा ने माफी मांग ली हो, लेकिन मैं अपने मन से उन्हें कभी भी माफ नहीं कर पाऊंगा।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App