Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

सेवा शुल्क पर केंद्र का फैसला: बैंकों को दिया ये आदेश, सर्विस चार्ज पर बड़ा फैसला

केंद्र की मोदी सरकार ने बैंकों द्वारा बैंकिंग सर्विसेज के लिए सेवा शुल्क बढ़ाए जाने पर कड़ा रुख अपनाया है। केंद्र ने कहा कि कोई बैंक सर्विस चार्ज नहीं लेगा।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 4 Nov 2020 6:41 AM GMT

सेवा शुल्क पर केंद्र का फैसला: बैंकों को दिया ये आदेश, सर्विस चार्ज पर बड़ा फैसला
X
सेवा शुल्क पर केंद्र का फैसला: बैंकों को दिया ये आदेश, सर्विस चार्ज पर बड़ा फैसला
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: बीते कुछ दिन से ऐसी अटकलें चल रही हैं कि कुछ सरकारी बैंकों द्वारा बैंकिंग सर्विसेज के लिए सेवा शुल्क बढ़ाया जाने वाला है। लेकिन अब केंद्र की मोदी सरकार ने इन अटकलों पर रोक लगा दी है। दरअसल, केंद्र सरकार ने कहा है कि 60 करोड़ से अधिक बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट (Basic Savings Bank Deposit) पर किसी तरह का सेवा शुल्क नहीं लिया जाता है।

जनधन खातों में लागू नहीं होता कोई भी सेवा शुल्क

वित्त मंत्रालय ने यह साफ तौर पर स्पष्ट किया है कि बैंक की ओर से जनधन खातों में कोई भी सेवा शुल्क लागू नहीं होता है। इसके अलावा नियमित बचत खाते (Regular savings account), चालू खाते (Current accounts), नकद उधार खातों और ओवरड्राफ्ट खातों में भी बैंकों ने सेवा शुल्क में कोई वृद्धि नहीं की है।

यह भी पढ़ें: सरकार का बड़ा एक्शन: आलू-प्याज की कीमतों पर लगेगी लगाम, बनाया ये प्लान

बैंक ऑफ बड़ौदा ने जमा और निकासी को लेकर किए थे परिवर्तन

हालांकि बैंक ऑफ बड़ौदा द्वारा एक नवंबर, 2020 से हर महीने मुफ्त नकद जमा और निकासी को लेकर नियम में कुछ परिवर्तन किए गए थे। बैंक ने जमा राशि और निकासी की सीमा प्रति माह पांच से घटाकर तीन कर दी है। हालांकि कोरोना वायरस के बाद देश में जो हालात बने, उसके मद्देनजर बैंक ने इस बदलाव को वापस ले लिया है।

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार ने किया बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, जानिए किसे कहां मिली तैनाती

बैंक ने दी थी ये जानकारी

बैंक ऑफ बड़ौदा ने जानकारी दी कि कोविड से जुड़ी स्थिति को देखते हुए उन्होंने इन परिवर्तनों को वापस लेने का निर्णय लिया है। वित्त मंत्रालय द्वारा साफ किया गया है कि किसी भी बैंक द्वारा इस तरह का कोई बदलाव नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें: सुशांत की बहनों पर गंभीर आरोप, हाईकोर्ट में मुबंई पुलिस ने किया ये बड़ा दावा

अमेरिका पर बढ़ा खतरा: कभी भी भड़क सकती है हिंसा, सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story