×

मध्य प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला, आयुष्मान योजना में कोरोना का फ्री होगा इलाज

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मध्यप्रदेश सरकार ने बड़ा राहत देने वाला फैसला लिया है।

Ayushman scheme
X

फोटो— (साभार— सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

भोपाल। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मध्यप्रदेश सरकार ने बड़ा राहत देने वाला फैसला लिया है। राज्य सरकार ने आयुष्यमान भारत योजना का दायरा बढ़ाते हुए इसमें कोरोना के इलाज को भी शामिल कर दिया है। बता दें कि राज्य में कोरोना ने अब गांव में भी अपना पैर पसार लिया है। ऐसे में राज्य सरकार का यह फैसला यहां के गरीबों को बड़ी राहत देने वाला है। सूत्रों की मानें तो इसके लिए राज्य सरकार तीन महीने के अंदर यहां के 250 अस्पतालों से अनुबंध करेगी। इसके तहत कोरोना संक्रमित आयुष्मान कार्ड दिखा कर अस्पताल में अपना इलाज करा सकेंगे, वहीं अस्पताल ऐसे कार्ड धारकों का इलाज करने से मना भी नहीं कर पाएंगे।

जिलाधिकारी को दी गई जिम्मेदारी

जानकारी के मुताबिक इसके लिए हर जिले के जिलाधिकारी को यह जिम्मेदारी दी जाएगी। वहीं राज्य सरकार इस योजना के लिए 68 अस्पतालों के साथ अनुबंध भी कर चुकी है। बाकी और अस्पतालों के साथ अनुबंध किए जाने की प्रक्रिया चल रही है। राज्य सरकार योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए 40 फीसदी तक अस्पतालों को अतिरिक्त पैकेज भी देगी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी जिलाधिकारियों को अस्पतालों से जल्द से जल्द अनुबंध की प्रक्रिया पूरी कराने के लिए कहा है, जिससे कोरोना संक्रमितों के इलाज में कोई दिक्कत न आने पाए।

Also Read:कोरोना मरीजों पर अब होगा एंटीबॉडी कॉकटेल का प्रयोग, रामबाण साबित हुआ है यह तरीका

इतना ही नहीं राज्य सरकार ने अपने अपने इस फैसले में एक बड़ी राहत और दी है। इससे परिवार के किसी एक सदस्य के पास आयुष्मान योजना के तहत अगर कार्ड है तो उस पर पूरे परिवार का इलाज मुफ्त में किया जाएगा। मरीज के अस्पताल में भर्ती होते ही प्रशासन की जिम्मेदारी होगी कि वह पूरे परिवार का आयुष्मान कार्ड बनवाए।

सीटी स्कैन की राशि सीमा को भी बढ़ाया

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने योजना के तहत सीटी स्कैन के लिए सालाना मिलने वाली राशि की सीमा में भी बढ़ोत्तरी कर दी है। इसके तहत पांच हजार रुपए की सीमा को बढ़ाकर 25,000 रुपए कर दिया है। मुख्यमंत्री की तरफ से कहा गया है कि इन अस्पतालों में कोरोना का इलाज मुफ्त में किया जाएगा तथा सीटी स्कैन की जांचें भी निशुल्क होंगी। इसके साथ ही रेमडेसिविर इंजेक्शन और ऑक्सीजन भी मुफ्त में मुहैया कराया जाएगा।

Also Read:कोरोना संक्रमित ने शादी समारोह में दूल्हे को दिया आशीर्वाद, 30 लोग हुए पॉजिटिव


Raghvendra Prasad Mishra

Raghvendra Prasad Mishra

Next Story