Top

ट्यूबवेल मे गैस रिसाव से पिता की मौत, सूचना पर भी नही पहुंचा प्रशासनिक अधिकारी

शाहजहांपुर में ट्यूबवेल के गढ्ढे से गैस रिसाव होने से पिता की मौत को गई। पिता को बचाने गढ्ढे मे कूदा बेटा भी बेहोश हो गया।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 24 April 2019 9:05 AM GMT

ट्यूबवेल मे गैस रिसाव से पिता की मौत, सूचना पर भी नही पहुंचा प्रशासनिक अधिकारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

यूपी : शाहजहांपुर में ट्यूबवेल के गढ्ढे से गैस रिसाव होने से पिता की मौत को गई। पिता को बचाने गढ्ढे मे कूदा बेटा भी बेहोश हो गया। आसपास मौजूद लोगो ने दोनो को बाहर निकाला लेकिन पिता की मौत हो चुकी थी। बेहोश बेटे को जिला अस्पताल मे भर्ती कराया जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुइ है।

मृतक परिवार की जिला प्रशासन ने कोई सुध नही ली है। हालांकि कांग्रेस प्रत्याशी ने जिला अस्पताल पहुचकर परिवार का हालचाल जाना। जिला प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया।

यह भी देखे: मोटरसाइकिल सवार को बचाने में पलटी बस, दो की मौत, दो दर्जन घायल

घटना थाना पुवायां के टिहरी ढुकरी गांव की है। यहां के रहने वाले 44 वर्षीय परमजीत शर्मा खेत पर काम कर रहे थे। अचानक खेत पर लगा ट्यूबवेल खराब हो गया। परमजीत ट्यूबवेल के बने गढ्ढे मे पहुचे और देखने लगे।

तभी गढ्ढे से गैस रिसाव होने लगा। देर तक जब परमजीत गढ्ढे से बाहर नही आए तो खेत पर मौजूद बेटा भी गढ्ढे मे पहुचा। गढ्ढे पिता की लाश देखकर बेटा चीखने लगा। जब पिता की लाश निकाल पाता वह गैस रिसाव का शिकार हो गया और बेटा बेहोश हो गया। उसके आसपास लोगो ने दोनो को गढ्ढे से बाहर निकाला।

उसके बाद 108 एंबुलेंस से दोनो को जिला अस्पताल लाया गया। जहां परमजीत को मृत घोषित कर दिया गया। बेहोश बेटे गौरव की हालत गंभीर देखते हुए उसे भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया। परिजनों का आरोप है कि सूचना के बाद भी जिला प्रशासन का कोई अधिकारी नही हमारी सुध लेने नही आया है।

यह भी देखे: बाप अपने बच्चों से करता था यौन शोषण, दादी ने दर्ज कराया केस

वही घटना की खबर जब कांग्रेस प्रत्याशी ब्रह्म स्वरूप सागर को मिली तो वह रोटियां सेंकने पहुच गए। वह मृतक परमजीत के परिवार से मिले और बेहोश बेटे को होश मे आने की कामना की।

साथ ही उन्होंने भी जिला प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि जब जिला प्रशासन को सूचना मिली थी कि गढ्ढे मे गैस रिसाव से एक मौत एक बेहोश हो गए है। उसके बाद भी कई घंटे बीत जाने के बाद प्रशासन का कोई अधिकारी परिवार की सुध लेने नही पहुचा।

वही डाक्टर वीके गंगवार का कहना है कि मृतक हालत मे परमजीत नाम के शख्स को लाया गया था। शव को मारचरी मे रखवा दिया गया है। मृतक का बेटे की भी हालत गंभीर है। उसका इलाज किया जा रहा है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story