क्या राहुल गाँधी के समर्थक ने की स्मृति ईरानी के करीबी पूर्व प्रधान की हत्या

यूपी के अमेठी में बीजेपी कार्यकर्ता और स्मृति ईरानी के करीबी की हत्या के मामले में सुरेंद्र सिंह के बेटे अभय ने आरोप लगाया है कि मेरे पिता स्मृति ईरानी के प्रचार में चौबीसों घंटे लगे रहते थे।

लो कांग्रेस का तो कोई अध्यक्ष ही नहीं, खुद 'राहुल गांधी' ने कहा

लो कांग्रेस का तो कोई अध्यक्ष ही नहीं, खुद 'राहुल गांधी' ने कहा

अमेठी: यूपी के अमेठी में बीजेपी कार्यकर्ता और स्मृति ईरानी के करीबी की हत्या के मामले में सुरेंद्र सिंह के बेटे अभय ने आरोप लगाया है कि मेरे पिता स्मृति ईरानी के प्रचार में चौबीसों घंटे लगे रहते थे। स्मृति ईरानी की जीत के बाद विजय यात्रा निकाली जा रही थी। ये बात कांग्रेस  समर्थक को अच्छी नहीं लगी। शायद इसीलिए उनकी हत्या कर दी गई। जिसके बाद सवाल उठता है की क्या कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी के समर्थक ने की पूर्व प्रधान की हत्या?

यह भी पढ़ें,,, जानिये क्या है एसएसपी कलानिधि नैथानी ‘ऑपरेशन मिडनाइट’?

हत्या के बाद पैरा मिलिट्री फोर्स तैनात-

बीजेपी सांसद स्मृति ईरानी के करीबी पूर्व प्रधान सुरेंद्र ने 2005 में पहला पंचायत चुनाव लड़ा था। 2015 में बैकवर्ड के लिए सीट आरक्षित होने के बाद उन्होंने अपने करीबी राम प्रकाश वर्मा को चुनाव लड़ाया था। देर रात हुई पूर्व प्रधान की हत्या के बाद इलाके में पैरा मिलिट्री फोर्स तैनात कर दी गई है। हाईप्रोफाइल मामला होने से जिले के प्रभारी मंत्री मोहसिन रजा अमेठी पहुंच रहे हैं। वहीं, स्मृति ईरानी भी कुछ देर में अमेठी पहुंचेंगी।

यह भी पढ़ें,,, स्‍मृति ईरानी के करीबी पूर्व प्रधान की हत्या का 12 घंटे में होगा खुलासा : डीजीपी

मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान

प्रदेश के मुख्यमंत्री यो गई आदित्यनाथ ने स्मृति ईरानी के करीबी पूर्व प्रधान की हत्या के मामले में जल्द से जल्द कार्यवाही कर आरोपियों को गिरफ्तार करने के आदेश दिए है। इस मामले में स्मृति ईरानी ने भी अधिकारियो से बातचीत की। प्रदेश पुलिस के मुखिया ओ पी सिंह खुद पूरे मामले की मॉनिटिरिंग कर रहे है।