सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षा की आई तारीख, यहां देखें पूरी डिटेल्स  

सीबीएसई बोर्ड ने 12वीं की परीक्षा के लिए डेट शीट जारी कर दी है।  इस परीक्षा को कोरोना के कारण बीच में ही टाल दिया गया था। 12वीं की परीक्षाएं एक जुलाई से 15 जुलाई के बीच होंगी। 

Published by SK Gautam Published: May 18, 2020 | 2:06 pm
Modified: May 18, 2020 | 2:14 pm

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के चलते जारी किये गए लॉक डाउन का आज से चौथा चरण शुरू हो गया। लॉक डाउन के चौथे चरण में बहुत सारी छूटें मिली हैं। देश में कोरोना वायरस का कहर लगातार जारी है। ऐसे में सारी होने वाली परीक्षाएं स्थगित की जा चुकी हैं। लेकिन अब उनकी जांच शुरू हो चुकी है।

CBSE बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं अभी भी टली हुई थीं। ऐसे में मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोख‍रियाल निशंक ने ट्वीट के जरिये सूचना दी थी कि CBSE बोर्ड की कक्षा 10वीं-12वीं की बची हुई परीक्षाओं का आयोजन जुलाई में होगा।

सीबीएसई बोर्ड ने 12वीं की परीक्षा के लिए डेट शीट जारी कर दी है।  इस परीक्षा को कोरोना के कारण बीच में ही टाल दिया गया था। 12वीं की परीक्षाएं एक जुलाई से 15 जुलाई के बीच होंगी।  इसके साथ ही नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में एक जुलाई से 15 जुलाई तक सीबीएसई 10वीं की परीक्षा होगी।  मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने डेट शीट शेयर की है।

इन विषयों की होंगी परीक्षाएं

मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोख‍रियाल निशंक ने ट्वीट करके सूचना दी थी कि परीक्षाओं का आयोजन तिथि 1-07-2020 से 15-07-2020 के बीच में तय किया गया है। परीक्षाओं की भी पूरी डेटशीट जारी कर दी गयी है। बोर्ड की ओर से ये भी स्पष्ट किया गया कि 10वीं बोर्ड के बची हुई परीक्षा सि‍र्फ नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में होंगी। वहीं यहां पर छात्रों के जरूरी विषयों की परीक्षा ली जाएगी। कक्षा 12वीं के 29 मुख्य विषयों की परीक्षा आयोजित की जाएगी।

ये भी देखें: शर्मनाक: मजदूरों के शवों को ऐसे भेजा जा रहा, औरैया हादसे में मारे गए थे सभी

आपको बता दें, सीबीएसई ने पहले ही बता दियाा था कि देश में कहीं भी 10वीं की परीक्षा नहीं होगी। सिर्फ नॉर्थ ईस्ट दिल्ली के छात्रों के लिए छूटी हुई परीक्षा आयोजि‍त की जाएगी।

173 विषयों की परीक्षा हो चुकी थी

वहीं दूसरी ओर जिन परीक्षाओं का आयोजन पहले से ही हो चुका है सीबीएसई ने उन परीक्षाओं की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन शुरू कर दिया है। इस प्रक्रिया को पूरे होने में 50 दिन का समय लग सकता है। डॉ निशंक ने बताया था कि 29 विषयों की परीक्षा का होना बाकी है, लेकिन जो 173 विषयों की परीक्षा हो चुकी थी, जिसकी 1.5 करोड़ से भी अधिक उत्तरपुस्तिकाएं हैं। जिनका मूल्याकांन करने के लिए गृह मंत्रालय की ओर से अनुमति मिल गई है।

ये भी देखें: आ रही बड़ी तबाही: पीएम ने बुलाई तत्काल बैठक, बनाएंगे प्लान

सीबीएसई ने 3000 स्कूलों को मूल्यांकन केंद्र के रूप में चिह्नित कर दिया है। अब 3000 मूल्याकांन केंद्र से ये उत्तर पुस्तिकाएं अध्यापकों के घरों तक पहुंचाई जा रही है। जिसके बाद अध्यापक मूल्याकांन की प्रकिया शुरू कर रहे हैं।

छात्रों और शिक्षकों की सुरक्षा के लिए, सोशल डिस्टेंसिंग का खास ध्यान

कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण, सीबीएसई बोर्ड अब आगामी बोर्ड परीक्षाओं के लिए नियमों और दिशा-निर्देशों का एक सेट तैयार कर रहा है। छात्रों और शिक्षकों की सुरक्षा के लिए, सोशल डिस्टेंसिंग का खास ध्यान रखा जा रहा है। परीक्षा के दौरान सख्त नियम अपनाएं जाएंगे। छात्रों और शिक्षकों के लिए सभी आवश्यक किटों के साथ परीक्षा केंद्र तैयार किए जाएंगे।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App