जियो दादा: 93 की उम्र में पास किया MA, बच्चों को लेनी चाहिए इनसे सीख

आपने अक्सर सुना होगा कि पढ़ाई की कोई उम्र नहीं होती। ऐसा ही एक नजारा इग्नू के दीक्षांत समारोह में देखने को मिला। दरअसल 93 साल के सीआई शिवासुब्रमण्यम ने मास्टर्स की पढ़ाई पूरी की। वह इस बार के दीक्षांत समारोह के सबसे बुजुर्ग छात्र थे। उन्होंने पब्लिक ऐडमिनिस्ट्रेशन में अपनी मास्टर्स की पढ़ाई पुरी की।

93 साल के शिवासुब्रमण्यम ने पूरी की मास्टर्स की पढ़ाई

शिवासुब्रमण्यम ने बताया कि 1940 में उन्होंने स्कूल की पढ़ाई खत्म की थी। उसके बाद वह कॉलेज जाना चाहते थे, लेकिन पारिवारिक समस्याओं की वजह से उन्हें पढ़ाई छोड़ नौकरी करनी पड़ी।

Image result for 93 year old man ci sivasubramanian gets master degree from ignou

परिवार की जिम्मेदारियों की वजह से नहीं कर पाए थे पढ़ाई

लेकिन उनका ग्रेजुएट होने का सपना अधूरा था। रिटायरमेंट के बाद भी परिवार की जिम्मेदारियों में वह ऐसा नहीं कर पाए। फिर एक दिन उनके करीबी ने बताया कि वह इग्नू से कोई कोर्स करने वाले हैं। जिसके बाद शिवा ने अपने लिए भी पता करने को कहा। पता चला कि इग्नू में उम्र की कोई सीमा नहीं है। जिसके बाद शिवा ने बैचलर कोर्स के लिए अप्लाइ कर दिया।

ये भी पढ़ें:UP Board Exam 2020: अग्नि परीक्षा में पहले दिन ही फेल हुए लाखों छात्र, हुआ ये हाल

अपने परिवार का जिक्र करते हुए शिवा ने कहा कि, ‘मेरे पोते-पोतियों की पढ़ाई खत्म हो चुकी है। कुछ की शादी हो गई है। एक पोती यूएस में पढ़ रही है।’ शिवा ने बताया, ‘मुझे पता नहीं था कि कोर्स पूरा होने तक मैं जिंदा भी रहूंगा या नहीं।’

ये भी पढ़ें:गरीब पाकिस्तान का मिसाइल परीक्षण: खाने को पैसे नहीं, कर रहा ये काम…