जानिए कब आएगा UP बोर्ड का रिजल्ट, उप मुख्यमंत्री दिनश शर्मा ने बताया

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से अभी तक तो मूल्यांकन का कार्य पूरा नहीं हुआ है। हमारी कोशिश है कि लॉकडाउन खुलते ही युद्धस्तर पर कॉपियों का मूल्यांकन कर जून के पहले हफ्ते में रिजल्ट घोषित कर दिया जाए।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश बोर्ड का रिजल्ट जून के पहले हफ्ते में आ सकता है। यह जानकारी प्रदेश के उप मुख्यमंत्री दिनश शर्मा ने दी है। अब इसके साथ ही उन अफवाहों पर विराम लग गया है जिनमें यूपी की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षाओं की कॉपियों का मू्ल्यांकन और रिजल्ट को लेकर चल रही थीं। दिनेश शर्मा ने यह बात एक न्यूज चैनल से बातचीत में कही है।

दिनेश शर्मा ने न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा कि इस समय लॉकडाउन की वजह से मूल्यांकन का कार्य 19 मार्च से बंद है। लॉकडाउन खुलते ही कॉपी जांचने का काम युद्धस्तर पर किया जाएगा। हमारी कोशिश है कि जून के पहले हफ्ते में रिजल्ट घोषित कर दिया जाए।

यह भी पढ़ें…Covid-19: नवजात का नाम रखा ‘लॉकडाउन’, हॉस्पिटल में बना चर्चा का विषय

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन की वजह से अभी तक तो मूल्यांकन का कार्य पूरा नहीं हुआ है। हमारी कोशिश है कि लॉकडाउन खुलते ही युद्धस्तर पर कॉपियों का मूल्यांकन कर जून के पहले हफ्ते में रिजल्ट घोषित कर दिया जाए।

यह भी पढ़ें…खाताधारकों को तोहफा: विलय के बाद सरकारी बैंक ने किया ये बड़ा एलान

बता दें कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो गया था। इसमें कहा जा रहा था कि छात्रों को बिना कॉपी जांचे ही पास किए जाने की योजना है। यह फेक मैसेज ‘माध्यमिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश प्रयागराज के हवाले से वायरल हुआ था।. इसको खारिज करते हुए सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया था कि ऐसा कोई आदेश हमारी तरफ से नहीं दिया गया है।

यह भी पढ़ें…संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में गुरुवार को होगी पहली बार कोरोना पर चर्चा, बुलाई गई मीटिंग

गौरतलब है कि यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं 18 फरवरी से 6 मार्च तक सम्पन्न हुई थी। बोर्ड परीक्षा की शुरुआत में 56 लाख 7 हजार 118 परीक्षार्थी द्वारा रजिस्ट्रेशन कराया गया था, लेकिन परीक्षा की समाप्ति तक चार लाख 70 हजार 846 परीक्षार्थियों द्वारा परीक्षा छोड़ दी।