महेश भट्ट ने इस एक्टर को पहले सेट से दिया था निकाल, बाद में दिया ‘स्वाभिमान’

बॉलीवुड एक्टर आशुतोष राणा आज अपना 52 वां बर्थडे मना रहे हैं। ऐसे में आज हम आपको आशुतोष के बारे में बताएंगे। आशुतोष ने अपना करियर टीवी सीरियल ‘स्वाभिमान’ से शुरू किया था। 30 से अधिक फिल्मों और कई टीवी सीरियलों में आशुतोष काम कर चुके हैं।

जयपुर: बॉलीवुड एक्टर आशुतोष राणा आज अपना 52 वां बर्थडे मना रहे हैं। ऐसे में आज हम आपको आशुतोष के बारे में बताएंगे। आशुतोष ने अपना करियर टीवी सीरियल ‘स्वाभिमान’ से शुरू किया था। 30 से अधिक फिल्मों और कई टीवी सीरियलों में आशुतोष काम कर चुके हैं। आशुतोष राणा हीरो नहीं, फिल्मों में विलेन के रुप में बनाई है पहचान। जिनका खलनायकी चेहरा देखकर लोग डर जाते हैं। 10 नवंबर 1964 में मध्यप्रदेश के एक गांव में जन्म हुआ था। हिंदी के अलावा मराठी, कन्नड़, और तेलगु फिल्मों में भी आशुतोष राणा ने काम किया है। और लीक से हटकर एक्टिंग कर अपनी अलग पहचान बनाई है।

यह पढ़ें…इस ऐक्ट्रेस ने की लड़कों की पिटाई, वजह जान चौंक जायेंगे आप

 

आशुतोषा राण ने एक्टिंग  की शुरुआत टीवी से की। मध्य प्रदेश के एक छोटे से गांव के रहने वाले आशुतोष वकील बनना चाहते थे, लेकिन किस्मत को कुछ और मंजूर था। बचपन में आशुतोष  रामलीला में रावण का रोल निभाया करते थे। उनके दादा जी चाहते थे कि वह एक्टिंग में करियर करें। तभी आशुतोष से एक्टिंग में करियर बनाने की सोची।आशुतोष  एक सामान्य से घर से आते हैं। उन्होंने एलएलबी की पढ़ाई की हुई है और वह वकालत करने के लिए तैयारी शुरु कर दी, लेकिन किस्मत ने उन्हें एक्टर बना दिया। एक्टिंग के लिए एनएसडी से शिक्षा भी ली।

आशुतोष ने एक्ट्रेस रेणुका साहणे से शादी की है। दोनों के दो बेटे भी हैं, जिनका नाम शौर्यमन और सत्येंद्र है। रेणुका की आशुतोष से दूसरी शादी है। जब आशुतोष और रेणुका की शादी हुई तब रेणुका तलाकशुदा थीं। उनकी पहली शादी पहले ही टूट चुकी थी।

 

यह पढ़ें…‘ बाला ‘ के बाद एक्टिंग नहीं, इस काम को आयुष्मान ने करने की जताई इच्छा….

 

 टीवी शो से हुई शुरुआत 
‘स्वाभिमान से’ टीवी शो से शुरुआत के बाद उन्हें टीवी पर और भी कई सीरियल्स में मौका मिला। वह फर्ज, साजिश, कभी-कभी और वारिस जैसे शोज में आए और पॉपुलर भी हुए।वह बाजी किसकी जैसे शो को होस्ट भी कर चुके हैं। टीवी के बाद उन्हें साल 1998 में फिल्मों में भी मौका मिला। फिल्म दुश्मन से उन्होंने बॉलीवुड में पहचान बनाई। फिल्म में उन्होंने साइको किलर का रोल किया था, जो इतना पॉपुलर हुआ और एक दमदार विलेन के रूप में  पहचान बनी। इस फिल्म के लिए उन्हें बेस्ट विलेन का फिल्मफेयर और स्क्रीन वीकली अवॉर्ड भी मिला।फिल्म संघर्ष के जरिए आशुतोष ने फिर एक बार खुद को साबित किया। इसके लिए भी उन्हें बेस्ट विलेन का अवॉर्ड मिला।

ऐसे मिला स्वाभिमान

आशुतोष ने एक रोचक किस्सा सुनाते हुए कहा मुझे फिल्म निर्माता-निर्देशक महेश भट्ट से मिलने को कहा गया। मैं भट्ट से मिलने गया और जाकर भारतीय परंपरा के अनुसार उनके पाँव छू लिए। पाँव छूते ही वे भड़क उठे क्योंकि उन्हें पैर छूने वालों से बहुत नफरत थी। उन्होंने मुझे अपने फिल्म सेट से बाहर निकलवा दिया तथा सहायक निर्देशकों पर भी काफी गुस्सा हुए कि आखिर उन्होंने मुझे कैसे फिल्म के सेट पर घुसने दिया।’’ अभिनेता ने कहा कि इतने अपमान के बाद भी उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और जब भी महेश भट्ट मिलते या कहीं दिखते तो वह लपक कर उनके पैर छू लेते और वह बहुत गरम होते।

उन्होंने कहा ‘’आखिर भट्ट ने एक दिन मुझसे पूछ ही लिया कि तुम मेरे पैर क्यों छूते हो जब कि मुझे इससे नफरत है। मैंने जवाब दिया कि बड़ों के पैर छूना मेरे संस्कार में है, जिसे मैं नहीं छोड़ सकता।’’ आशुतोष ने कहा ‘‘इस पर भट्ट ने मुझे गले से लगा लिया और टीवी सीरियल स्वाभिमान में मुझे पहला रोल एक गुंडे का दिया। बाद में तो मैंने महेश भट्ट के साथ कई फिल्मों में काम किया, जिसमें ‘जख्म’, ‘दुश्मन’ प्रमुख हैं ।

एक्टिंग के अलावा आशुतोष  धार्मिक इंसान, उनकी पूजा-पाठ में  खास अहमियत है। वह भगवान शिव के भक्त हैं। उनका कहना है कि वह चाहे शूटिंग में कितने ही व्यस्त क्यों ने हों लेकिन जब उनके गुरु सवा करोड़ पार्थिव शिवलिंग निर्माण महारूद्र यज्ञ के लिए बुलाते हैं तो वे सारे काम छोड़कर आ जाते हैं