Top

कंगना का भावुक संदेश: मेरी राख गंगा में न बहाएं, आप भी हो जाएंगे इमोशनल

आपको बता दें कि बॉलीवुड क्वीन कंगना रनौत ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया है। कंगना ने लिखा है, “एक नई कविता लिखी जिसका नाम राख (रास) है, जो लंबी पैदल यात्रा के दौरान प्रेरित हुई, जब आप कर सकते हैं तो देखें”

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 29 Dec 2020 8:38 AM GMT

कंगना का भावुक संदेश: मेरी राख गंगा में न बहाएं, आप भी हो जाएंगे इमोशनल
X
कंगना का भावुक संदेश: मेरी राख गंगा में न बहाएं, आप भी हो जाएंगे इमोशनल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: अपनी बेबाक बोल से सुर्खियों में छाए रहने वाली बॉलीवुड क्वीन कंगना रनौत एक बार फिर से चर्चा में बनी हुई है। इन दिनों अपने अभिनय के अलावा वह अपनी कविता 'आसमान' से जमकर तारीफ बटोरी थीं। वहीं, कंगना की अब एक नई कविता की चर्चा सोशल मीडिया खूब हो रही है।

कंगना की नई कविता 'राख'

आपको बता दें कि कंगना ने अपनी नई कविता में अपनी आखिरी इच्छा का जिक्र किया है। उन्होंने इस कविता के जरिए बताया है कि वह क्यों नहीं चाहतीं कि उनकी राख गंगा में बहाई जाए। जैसा कि उन्होंने इस कविता का शीर्षक 'राख' दिया है, लेकिन इसमें उन्होंने जिन्दगी में ऊंची उड़ान की ख्वाहिश जताई है।

ये भी पढ़ें: फिर मुंबई में कंगना: टाइट सिक्योरिटी का वीडियो आया सामने, एयरपोर्ट पर ऐसे दिखीं

बॉलीवुड क्वीन ने शेयर किया कविता के बोल

आपको बता दें कि बॉलीवुड क्वीन कंगना रनौत ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें उन्होंने अपनी नई कविता के बोल अपने फैन्स को सुनाया है। इस वीडियो को शेयर करते हुए कंगना ने लिखा है, “एक नई कविता लिखी जिसका नाम राख (रास) है, जो लंबी पैदल यात्रा के दौरान प्रेरित हुई, जब आप कर सकते हैं तो देखें”



ये हैं नई कविता के बोल

अगर बात करें कंगना रनौत की नई कविता के बोल के बारे में, तो उन्होंने अपनी कविता के बोल कुछ यूं दिया है...

'मेरी राख को गंगा मैं मत बहाना

हर नदी सागर में जाके मिलती है

मुझे सागर की गहराइयों से डर लगता है

मैं आसमान को छूना चाहती हूं

पहाड़ों पर मेरी राख को बिखेर देना

जब सूरज उगे, तो मैं उसे छू सकूं

जब मैं तन्हा हूं, तो चांद से बातें करूं

मेरी राख को उस क्षितिज पे छोड़ देना'

यह भी पढ़ें... आ रही कोरोना से जीतने वाली बेबी डॉल, अब धमाल मचाएंगी कनिका कपूर

हाइकिंग के दौरान कंगना ने लिखी कविता

बताते चलें कि कंगना रनौत हाल ही में अपनी नई नवेली भाभी के और रंगोली के साथ हाइकिंग पर गई थीं। उसी दौरान कंगना ने अपनी नई कविता लिखी। जैसा कि वीडियो में कंगना की तस्वीरों के जरिए पहाड़ों के नजारे को आप साफतौर पर देख सकते हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story