Top

गीतकार संतोष आनंद को मिले पद्म पुरस्कार, आरके श्रीवास्तव ने की मांग

बिहार के आरके श्रीवास्तव ने गीतकार संतोष आनंद के लिए भारत सरकार से पद्म पुरस्कार से सम्मानित किए जाने की अपील की। उन्होमने कहा कि वे जल्द ही संतोष आनंद से मिलेंगे।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 26 Feb 2021 2:16 PM GMT

गीतकार संतोष आनंद को मिले पद्म पुरस्कार, आरके श्रीवास्तव ने की मांग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बिहार- देश के प्रसिद्ध शिक्षक आरके श्रीवास्तव ने कहा गीतकार संतोष आनंद जैसे लोग सदियो में एकबार जन्म लेते है, भारत सरकार को इन्हे पद्म पुरस्कार से सम्मानित करना चाहिये। बिहार के आरके श्रीवास्तव ने कहा जल्द ही संतोष आनंद जी से मिलकर उनका आशीर्वाद लूंगा। ऐसे लोगो का सानिध्य यह सिखाता है कि "जीतने वाले छोङते नही और छोड़ने वाले जीतते नही "

आरके श्रीवास्तव बोले- गीतकार संतोष आनंद को मिलना चाहिये पद्म पुरस्कार

दरअसल, सोनी टीवी के प्रसारित होने वाले प्रसिद्द म्यूजिक शो इंडियन आइडल (Indian Idol) के हाल ही के एपिसोड में मशहूर गीतकार संतोष आनंद (Santosh Anand) आए थे। 'जिंदगी की ना टूटे लड़ी', 'एक प्यार का नगमा है' जैसे सुपरहिट गाने लिखने वाले मशहूर गीतकार संतोष आनंद ने शो में जब अपनी आपबीती सुनाई तो वहां मौजूद सभी लोगों की आंख भर आई।

ये भी पढ़ें- किसान के बेटे बने अफसरः मैथेमैटिक्स गुरू ने दी उड़ान, NDA में मिली सफलता

इंडियन आइडल में नजर आए थे संतोष आनंद

संतोष आनंद ने बताया कि वह बरसों बाद मुंबई में आए हैं और उन्हें काफी अच्छा लग रहा है। शो के दौरान संतोष आनंद अपनी पुरानी बातों को याद कर भावुक हो गए। संतोष आनंद ने शो में कहा कि ऊपरवाले ने मुझे बहुत कुछ दिया था लेकिन वो सबकुछ चला गया।



आरके श्रीवास्तव करेंगे संतोष आनंद से मुलाकात

संतोष आनंद के लिए भारत सरकार से पद्म पुरस्कार से सम्मानित किए जाने की मांग करने वाले आरके श्रीवास्तव मैथमैटिक्स गुरू के नाम से भी जाने जाते हैं। बिहार के रोहतास जिले के रहने वाले आरके श्रीवास्तव सिर्फ 1 रूपया गुरु दक्षिणा में पढाकर 540 स्टूडेंट्स को इंजीनियर बना चुके है। देश के सैकङो चर्चित हस्तियाँ आरके श्रीवास्तव को सम्मानित कर चुके है।

मैथमैटिक्स गुरू गरीब स्टूडेंट्स से लेते हैं सिर्फ 1 रुपया गुरु दक्षिणा

खेल-खेल में जादुई तरीके से गणित पढ़ाने का उनका तरीका लाजवाब है। कबाड़ की जुगाड़ से प्रैक्टिकल कर गणित सिखाते हैं। सिर्फ 1 रुपया गुरु दक्षिणा लेकर स्टूडेंट्स को पढ़ाते हैं।

ये भी पढ़ें- एक रूपये गुरू दक्षिणा: आरके श्रीवास्तव का शिष्य बना इंजीनियर, मेहनत लाई रंग

आर्थिक रूप से सैकड़ों गरीब स्टूडेंट्स को आईआईटी, एनआईटी, बीसीईसीई सहित देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में पहुँचाकर उनके सपने को पंख लगा चुके हैं।

mathematics guru rk srivastava can make above 10 question from one

कई स्टूडेंट्स के सपनों के आके श्रीवास्तव ने दी उड़ान

वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्डस और इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में भी आरके श्रीवास्तव का नाम दर्ज है। आरके श्रीवास्तव के शैक्षणिक कार्यशैली की प्रशंसा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी कर चुके हैं। इनके द्वारा चलाया जा रहा नाइट क्लासेज अभियान अद्भुत, अकल्पनीय है।

स्टूडेंट्स को सेल्फ स्टडी के प्रति जागरूक करने लिये 450 क्लास से अधिक बार पूरी रात लगातार 12 घंटे गणित पढ़ा चुके हैं। इनकी शैक्षणिक कार्यशैली की खबरें देश के प्रतिष्ठित अखबारों में छप चुकी हैं, विश्व प्रसिद्ध गूगल ब्वाय कौटिल्य के गुरु के रूप में भी देश इन्हें जानता है।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story