Top

बाबरी पर बोलीं स्वरा-ऋचा: एक्ट्रेस ने कसा तंज, कह दी ये बड़ी बात

बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में कोर्ट ने बुधवार को 28 साल बाद अपना फैसला सुना दिया है। इस फैसले पर बॉलीवुड के तमाम सितारों ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। 

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 30 Sep 2020 12:14 PM GMT

बाबरी पर बोलीं स्वरा-ऋचा: एक्ट्रेस ने कसा तंज, कह दी ये बड़ी बात
X
स्वरा-ऋचा ने बाबरी फैसले पर दी प्रतिक्रिया
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में कोर्ट ने बुधवार को 28 साल बाद अपना ऐतिहासिक फैसला सुना दिया है। इस मामले में फैसला सुनाते हुए CBI की स्पेशल अदालत ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि यह घटना पूर्वनियोजित नहीं थी। संगठन के द्वारा कई बार रोकने का प्रयास किया गया। जज ने अपने शुरुआती कमेंट में कहा कि ये घटना अचानक ही हुई थी। वहीं कोर्ट का फैसला आ जाने के बाद बॉलीवुड के तमाम सितारों ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

स्वरा भास्कर और ऋचा चड्ढा ने दी ऐसी प्रतिक्रिया

कोर्ट के फैसले पर एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने तंज कसते हुए ट्वीट किया कि ''बाबरी मस्जिद खुद ही गिर गया था।'' जबकि एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने ट्वीट कर कहा कि ''इस जगह से ऊपर भी एक अदालत है, यहां देर है अंधेर नहीं।''





यह भी पढ़ें: बाबरी ढांचा ध्वंस में सभी बरीः राम के प्रति श्रद्धा की जीत, संतों ने किया निर्णय का स्वागत

अनुभव सिन्हा ने लाल कृष्ण आडवाणी को दी बधाई

वहीं फिल्म मेकर अनुभव सिन्हा ने इस मामले में ट्वीट करते हुए लिखा कि श्री लाल कृष्ण आडवाणी को बधाई, अब आप इस देश की आत्मा पर एक खूनी रेखा खींचने के आरोप से बरी हो गए हैं। भगवान आपको बहुत लंबी उम्र दे।



कोर्ट ने सुनाया अपना ऐतिहासिक फैसला

बता दें कि मंगलवार को ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए अदालत ने पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली मनोहर जोशी, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, एमपी की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती, बीजेपी के सीनियर नेता विनय कटियार समेत कुल 32 आरोपियों को बरी कर दिया है।

यह भी पढ़ें: हाथरस का बड़ा राज: बिना नंबर वाली एम्बुलेंस की सच्चाई, पढ़ें क्या बोले यह विधायक

अदालत ने क्या कहा?

कोर्ट ने सुनवाई के दौरान कहा कि बाबरी विध्वंस घटना पूर्व नियोजित नहीं थी, बल्कि ये अचानक हुई। सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने माना कि अराजक तत्वों द्वारा ढांचा गिराया गया, इसमें नेताओम की भूमिका के कोई साक्ष्य नहीं हैं। कोर्ट में सीबीआई आरोप साबित करने में असफल रही, इसलिए सभी आरोपियों को बरी करने का फैसला सुनाया गया।

49 लोगों को बनाया गया था आरोपी

बता दें कि 6 दिसम्बर 1992 के दिन अयोध्या में बाबरी मस्जिद को ढहा दिया गया था। जिसके बाद उसी दिन रामजन्म भूमि थाने के तत्कालीन थाना प्रभारी प्रियंबदा नाथ शुक्ल और चौकी प्रभारी गंगा प्रसाद तिवारी ने इस मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसके बाद इस मामले की विवेचना सीबीआई को सौंप दी गई थी। इस मामले में सीबीआई ने कुल 49 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी। इनमें से 32 को बरी कर दिया गया, जबकि 17 लोगों की मौत सुनवाई के दौरान हो चुकी है।

यह भी पढ़ें: LAC पर महाशक्तिशाली मिसाइल: भारत की बड़ी जीत, चीन अब हर हाल में होगा दफन

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story