लॉक डाउन के बाद इंटरनेट की बारी! नेटवर्क पर दबाव कम करने के लिए उठी ये मांग

कोरोना वायरस से बचने के लिए भारत में कई राज्यों को लॉक डाउन कर दिया गया तो वहीं कई अन्य रणनीतियों के तहत केंद्र और राज्य सरकारें काम कर रहीं हैं। इसी कड़ी में अब नेटवर्क को लेकर भी बड़ी खबर आयी है ।

दिल्ली: कोरोना वायरस से बचने के लिए भारत में कई राज्यों को लॉक डाउन कर दिया गया तो वहीं कई अन्य रणनीतियों के तहत केंद्र और राज्य सरकारें काम कर रहीं हैं। इसी कड़ी में अब नेटवर्क को लेकर भी बड़ी खबर आयी है । दरअसल, मोबाइल वीडियो नेटवर्क कंपनियों से अब तत्काल नेट का दबाव कम करने को कहा गया है ।

मोबाइल नेटवर्क कंपनियों के संगठन ने सरकार से किया आग्रह

कोरोना से निपटने के लिए नेटफ्लिक्स, अमेज़न वीडियो प्राइम जैसी अन्य वीडियो सामग्री बेचने वाली कंपनियों से नेटवर्क (Network) पर दबाव कम करने का निर्देश देने के लिए मोदी सरकार मांग की गयी है। यह मांग सेल्यूलर मोबाइल सेवा नेटवर्क कंपनियों के संगठन सीओएआई (COAI) ने की है।

ये भी पढ़ें: अब बदलेंंगे यूपी के हालात: सीएम योगी ने लिया बड़ा फैसला, बंद कर दिए ये जिले

वीडियो सामग्री कंपनियों से नेटवर्क पर दबाव कम करने को कहा

सीओएआई (COAI) का कहना है कि इस समय जब लोगों ने खुद को घरों में कैद किया हुआ है, तो ऐसे में खाली वक्त होने के चलते वीडियो सामग्रियों की मांग बढ़ गयी है। ऐसे में नेटवर्क पर दबाव है। संगठन के मुताबिक इस समय ‘बहुत जरूरी’ कामों के लिए नेटवर्क (Network) की जरूरत भी है।

ये भी पढ़ें: कोरोना के वीरों को देश का सलाम, PM मोदी समेत इन दिग्गजों ने जताया आभार

नेटफ्लिक्स और अमेजन पर लग सकती है सेंसरशिप

लॉक डाउन और सेल्फ आइसोलेशन से बढ़ेगी नेट की मांग

उनका मानना है कि लॉक डाउन के कारण ऑनलाइन वीडियो स्ट्रीमिंग (Online Video Streaming) की मांग अचानक बढ़ने की संभावना है।

ये भी पढ़ें: लॉक डाउन पर बड़ा फैसला: अब सील किया गया ये राज्य, 31 मार्च तक सब बंद

COAI ने केंद्र से इस बारे में कोई कदम उठाने का आग्रह करने के साथ ही वीडियो स्ट्रीमिंग कंपनियों से भी बात की. उन्होंने अपील की, दूरसंचार नेटवर्क सेवा देने वाली कंपनियों के साथ वीडियो स्ट्रीमिंग कंपनियां सहयोग करें ताकि नेटवर्क पर बदाव न बढ़े। इस तरह इन नाजुक हालातों में नेटवर्क की जरूरत को अहम कामों में इस्तेमाल किया जा सकेगा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।