Gmail से खतरा: तुरंत हो जाएँ सावधान, नहीं तो खड़ी हो सकती है नई मुसीबत

इंटरनेट ने जहां लोगों की जिंदगी को इतना आसान बना दिया है, वहीं इससे साइबर क्राइम को भी कई गुना बढ़ा दिया है। अब भारतीय कंप्यूटर आपातकालीन प्रतिक्रिया टीम (CERT-In) ने यूजर्स नए तरह के ईमेल एक्सटॉर्शन फ्रॉड से सावधान रहने को कहा है।

Gmail से खतरा: तुरंत हो जाएँ सावधान, नहीं तो खड़ी हो सकती है नई मुसीबत

नई दिल्ली: इंटरनेट ने जहां लोगों की जिंदगी को इतना आसान बना दिया है, वहीं इससे साइबर क्राइम को भी कई गुना बढ़ा दिया है। अब भारतीय कंप्यूटर आपातकालीन प्रतिक्रिया टीम (CERT-In) ने यूजर्स नए तरह के ईमेल एक्सटॉर्शन फ्रॉड से सावधान रहने को कहा है। भारतीय कंप्यूटर आपातकालीन प्रतिक्रिया टीम CERT-In ने अपनी ऐडवाइजरी में कहा कि हैकर्स ने यूजर्स को कई ऐसे ईमेल भेजे हैं, जिनमें कंप्यूटर और पासवर्ड हैक किए जाने की बात कही गई है। ईमेल में हैकर्स दावा कर रहे हैं कि उन्होंने कंप्यूटर वेबकैम से विडियो रिकॉर्ड किया है और उन्हें यूजर का पासवर्ड पता है। इससे साफ़ है की इंटरनेट यूजर्स के डेटा और प्रिवेसी पर बड़ा खतरा उभरता हुआ दिखाई दे रहा है।

ये भी पढ़ें….कोरोना के बाद अब ये ढाएगा कहर, तबाही से बचने के लिए तैयारियां शुरू

कंप्यूटर और पासवर्ड हैक होने के कुछ सबूत

इंटरनेट हैकर्स ऑनलाइन एक्सटॉर्शन फ्रॉड में अपने शिकार को कंप्यूटर और पासवर्ड हैक होने के कुछ सबूत भी देते हैं। इसमें इंटरनेट यूजर को अपने चंगुल में फंसाने के बाद ये साइबर चोर बिटकॉइन और दूसरे न पकड़ में आने वाले पेमेंट मोड से पैसों की डिमांड करते हैं। पेमेंट न करने पर ये हैकर पर्सनल फोटो और दूसरे संवेदनशील डेटा को लीक कर देने की धमकी देते हैं।

इंटरनेट के ये हैकर भेजे गए ईमेल में यूजर के किसी पुराने पासवर्ड के बारे में बताते हैं। इसके बाद ये साइबर क्रिमिनल्स खुद को काबिल हैकर बताने के लिए कंप्यूटर में इस्तेमाल किए जाने वाले कठिन शब्दों और प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का यूज करते हैं।

ये भी पढ़ें….रोजेदारों के कंधों पर गई हिन्दू की अर्थी, भाईचारे, सौहार्द्र की अनूठी मिसाल

सॉफ्टवेयर के जरिए हैक होने का दावा

फिर हैकर्स कुछ उन साइट्स के बारे में बताते हैं जिसे यूजर ने विजिट किया होता है। हैकर इन्हीं वेबसाइट से यूजर के पासवर्ड डीटेल और स्क्रीन रिकॉर्ड करने की बात करते हैं।

इसके साथ ही ये हैकर यूजर को डराने के लिए मेसेंजर कॉन्टैक्ट, फेसबुक अकाउंट और ईमेल अकाउंट की जानकारियों को सॉफ्टवेयर के जरिए हैक होने का दावा करते हैं।

वहीं हैकर कि इन चाल से ज्यादातर यूजर घबरा जाते हैं। इसी का फायदा उठाकर हैकर यूजर्स के बिटकॉइन या किसी दूसरे पेमेंट मोड से पैसे ट्रांसफर करने के लिए कहते हैं। फिर 24 घंटे में पैसे न मिलने की धमकी देते हुए हैकर यूजर्स की निजी जानकारी को लेकर डराते हैं।

ये भी पढ़ें….रोजेदारों के कंधों पर गई हिन्दू की अर्थी, भाईचारे, सौहार्द्र की अनूठी मिसाल

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App