बेकार होंगे ATM कार्ड: सिर्फ 8 दिन में करना होगा ये काम, नहीं तो कूड़ा हो जाएगा

आरबीआई ने फ्रॉड से बचने के लिए बैंकों को पहले ही निर्देश दे चुका है। बैंक अब मैगनेटिक स्ट्राइप वाला डेबिट कार्ड बदलकर ज्यादातर नए ग्राहकों को ईएमवी चिप वाला डेबिट कार्ड दे रहा है। जिन ग्राहकों पुराने कार्ड हैं, 31 दिसंबर के बाद वह पैसा नहीं निकाल पाएंगे।

नई दिल्ली: वर्ष 2019 बीतने को है और नया साल कुछ ही दिनों में दस्तक देने वाला है। ऐसे में न्यूजट्रैक आपके लिए एक ऐसी जानकारी लाया है जो कि आपके लिए बेहद जरूरी है।

दरअसल, 31 दिसंबर के बाद देश में कई एटीएम कम डेबिट कार्ड बंद हो जाएंगे। ऐसे में ग्राहकों को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। बता दें कि ऐसा नहीं है कि ये अचानक से हो रहा है, बल्कि इस संदर्भ में देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने अपने खाताधारकों के लिए अलर्ट भी जारी किया था। ऐसे में कार्ड को बदलवाने के लिए ग्राहक तुरंत बैंक में संपर्क करें क्योंकि एक जनवरी 2020 से उनके कार्ड से लेन-देन पूरी तरह से बंद हो जाएगा।

ये भी पढ़ें—बिक रही नागरिकता: खरीद सको तो खरीद लो, यहां जानें कैसे..

यह कार्ड होंगे बंद

एसबीआई ने कहा है कि वो फिलहाल चल रहे अपने मैगनेटिक स्ट्राइप डेबिट कार्ड का प्रयोग बंद करने जा रहा है। एक जनवरी 2020 से केवल ईएमवी चिप और पिन वाले कार्ड ही प्रयोग किए जा सकेंगे। भारतीय रिजर्व बैंक के आदेश से ऐसा करना जरूरी है। आदेश के अनुसार, भारत में चल रहे सभी बैंको को मैगनेटिक स्ट्राइप वाले डेबिट का प्रयोग इस साल के अंत तक पूरी तरह से बंद कर देना है।

किसलिए बंद हो रहे ये एटीएम

आरबीआई ने फ्रॉड से बचने के लिए बैंकों को पहले ही निर्देश दे चुका है। बैंक अब मैगनेटिक स्ट्राइप वाला डेबिट कार्ड बदलकर ज्यादातर नए ग्राहकों को ईएमवी चिप वाला डेबिट कार्ड दे रहा है। जिन ग्राहकों पुराने कार्ड हैं, 31 दिसंबर के बाद वह पैसा नहीं निकाल पाएंगे।

ये भी पढ़ें—क्रिसमस 2019: इस बार बनें अपने फैमिली के सांता क्लॉज, इन गिफ्ट्स से बांटे खुशियां

जानें कैसे बदल सकते हैं कार्ड

एसबीआई ने अपने ग्राहकों से कहा है कि पुराना कार्ड बदलने पर किसी तरह का कोई चार्ज नहीं लगेगा। ग्राहक इंटरनेट बैंकिंग, योनो एप या फिर अपनी शाखा पर जाकर अपना पुराना कार्ड बदलवा सकते हैं।

ये चीज होना है जरूरी

हालांकि, नए एटीएम कार्ड का आवेदन करने से पहले ग्राहकों का अपना वर्तमान पता अपडेटेड करवाना होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि नया कार्ड ग्राहक के रजिस्टर्ड पते पर ही भेजा जाएगा। अगर पता गलत हुआ तो फिर ग्राहक को कार्ड नहीं मिलेगा और वो वापस बैंक के पास चला जाएगा।

ये भी पढ़ें—पूजन में कभी न करें ये भूल: ऐसे चयन करें देवताओं पर चढ़ाने वाले फूल

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App