क्या भारत में बंद होने जा रहा Vodafone-Idea! कंपनी ने दिया ये बयान

ब्रिटेन की टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन ने बताया कि वह भारतीय बाजार में निवेश बनाये रखेगी और मौजूदा चुनौती से निकलने के लिए सरकार से मदद मांग रही है।

नई दिल्ली: टेलीकॉम सेक्टर की दिग्गज कंपनी वोडाफोन ने भारत से कारोबार समेटने की खबरों को अफवाह बताया है। ब्रिटेन की टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन ने बताया कि वह भारतीय बाजार में निवेश बनाये रखेगी और मौजूदा चुनौती से निकलने के लिए सरकार से मदद मांग रही है।

वोडाफोन समूह की तरफ से बयान जारी कर कहा गया है कि भारतीय मीडिया में फैल रही निराधार अफवाहों से हम अवगत हैं। मीडिया में खबरें चल रही हैं कि वोडाफोन ने भारत से कारोबार समेटने का निर्णय लिया है। समूह की तरफ से कहा गया है कि हम बताना चाहते हैं कि यह सच नहीं है और ऐसी बातें दुर्भावनापूर्ण हैं।

यह भी पढ़ें…व्हाट्सएप का नया बवाल! तो क्या एन्क्रिप्टेड नहीं है एप, जानिए फोन में कैसे आया पेगासस

कंपनी ने कहा कि वह सरकार के साथ सक्रियता से संपर्क में है और इस चुनौतीपूर्ण समय में भारत में (आईडिया के साथ अपने) संयुक्त वेंचर को संभाल रहे स्थानीय प्रबंधन को पूरा समर्थन दे रही है।

गौरतलब है कि सु्प्रीम कोर्ट ने हाल ही में एक फैसला सुनाया था जिसके तहत वोडाफोन आइडिया लिमिटेड को करीब 40 हजार करोड़ रुपये का विधायी बकाया भुगतान करना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ें…अखबार वाला बना अरबपति! ऐसे बदली किस्मत, किया बड़े-बड़े अमीरों को किया पीछे

इसलिए फैलीं अफवाहें

लंबे समय से वोडाफोन को कारोबार में नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। इसके साथ ही यह खबरें उड़ रही थीं कि भारी कर्ज के कारण कंपनी अपना कारोबार समेट सकती है। कुछ समय पहले ही वोडाफोन और आइडिया का मर्जर हुआ है।

यह भी पढ़ें…चोरी हो चुकी है कार्ड डिटेल, जानिए इस बड़े खतरे से कैसे बचें

सुप्रीम कोर्ट के एडजेस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (एजीआर) पर फैसले के बाद बीते 25 अक्टूबर को वोडाफोन-आइडिया ने स्टॉक एक्सचेंज से कहा था कि इसका कंपनी पर बड़ा असर हुआ है। इसके बाद से ही कंपनी के कारोबार समेटने की खबरें चल रही थीं, लेकिन वोडाफोन समूह ने साफ कर दिया है कि यह सिर्फ अफवाह है।