YouTube ने किया बड़ा बदलाव, ऐसा करने पर बंद हो सकता है आपका एकाउंट

गूगल की वीडियो स्ट्रीमिंग साइट यूट्यूब ने अपनी पॉलिसी में बड़ा फेरबदल किया है। यूट्यूब की नई शर्त नए यूट्यूबर के लिए मुसीबत बन सकती है।

लखनऊ: गूगल की वीडियो स्ट्रीमिंग साइट यूट्यूब ने अपनी पॉलिसी में बड़ा फेरबदल किया है। यूट्यूब की नई शर्त नए यूट्यूबर के लिए मुसीबत बन सकती है।

यूट्यूब के नये नियम के मुताबिक़ यदि किसी चैनल से उसे कमाई नहीं होती है तो वह उसे डिलीट कर सकता है या फिर चैनल पर प्रतिबंध लगा सकता है। आइए विस्तार से जानते हैं क्या है यूट्यूब की नई शर्त?

ये भी पढ़ें…‘ढिंचैक पूजा’ के दीवानों के लिए बुरी खबर, यूट्यूब पेज से सारे गाने हुए डिलीट

यूट्यूब  ने “Account Suspension & Termination” नाम से एक ब्लॉग प्रकाशित किया है जिसके मुताबिक यदि आपके यूट्यूब चैनल से कंपनी की कमाई नहीं होती है तो वह आपके यूट्यूब अकाउंट या चैनल को बंद कर सकती है।

यूट्यूब की नई शर्त 10 दिसंबर से लागू होगी। हालांकि शर्ते में यह नहीं बताया गया है कि कितने दिनों तक चैनल से कमाई नहीं होने पर चैनल को कंपनी डिलीट करेगी।

ये भी पढ़ें…समाचार संगठनों की मदद के लिए यूट्यूब रोकेगी फर्जी खबरें

यूट्यूब से पैसे कमाना और भी होगा मुश्किल

यूट्यूब चैनल से अब आपके लिए पैसे कमाना और भी मुश्किल होने वाला है। यूट्यूब ने अपने पार्टनर प्रोग्राम को अपडेट कर दिया है। पार्टनर प्रोग्राम अपडेट के मुताबिक, अब किसी चैनल या क्रिएटर को यूट्यूब पर पैसे कमाने के लिए ज्यादा से ज्यादा सब्सक्राइबर्स की जरूरत होगी।

वहीं, अब उन्हीं चैनलों को एड मिलेगा, जिनके पास कम से कम 1000 सब्सक्राइबर्स होंगे। इसके साथ ही 12 महीने में कम से कम 4,000 घंटे वीडियो चैनल पर देखें गए होने चाहिए।

वहीं, इससे पहले कंपनी ने मिनिमम व्यूज को 10,000 पर रखा था। जिसका मतलब यह है कि 10,000 व्यूज पूरे होने पर एड मिलते थे।

गूगल

इस बात की जानकारी यूट्यूब ने अपने ब्लॉग पोस्ट से दी है। यूट्यूब के ब्लॉग पोस्ट के मुताबिक, 20 फरवरी अंतिम तारीख होगी। जिसका मतलब यह है कि जिस चैनल के वीडियो को 4,000 घंटे के व्यूज नहीं मिलते है और 1,000 सब्सक्राइबर्स पूरे नहीं होते है उन्हें 20 फरवरी के बाद से एड नहीं मिलेंगे।

ये भी पढ़ें…अब यूट्यूब के जरिए पता चलेगा कि किस वीडियो में लगा है सरकार का पैसा