×

बड़ी खबर: जल्द कोरोना से आजाद होगा देश, तेजी से विकसित हो रही एंटीबाडी

एक ओर जहां पूरा देश कोरोना महामारी से परेशान है और वैक्सीन का इंतजार कर रहा है तो वहीं दूसरी ओर अच्छी खबर यह है कि देश के लोगों के शरीर में एंटीबाडी तेजी से विकसित हो रही हैं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 17 Sep 2020 10:24 AM GMT

बड़ी खबर: जल्द कोरोना से आजाद होगा देश, तेजी से विकसित हो रही एंटीबाडी
X
बड़ी खबर: जल्द कोरोना से आजाद होगा देश, तेजी से विकसित हो रही एंटीबॉडी (social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: एक ओर जहां पूरा देश कोरोना महामारी से परेशान है और वैक्सीन का इंतजार कर रहा है तो वहीं दूसरी ओर अच्छी खबर यह है कि देश के लोगों के शरीर में एंटीबाडी तेजी से विकसित हो रही हैं। यह संकेत देश की राजधानी दिल्ली में हुए तीसरे सीरोलाजिकल सर्वे में सामने आए है। दिल्ली में हुए ताजा सीरो सर्वें के आधे से ज्यादा सैम्पलों का विश्लेषण बता रहा है कि दिल्ली के 33 प्रतिशत लोगों यानी करीब 66 लाख लोगों के शरीर में कोरोना वायरस की एंटीबाडी विकसित हो गई है और यह लोग कोरोना की चपेट में आने के बाद उसे मात भी दे चुके है। इनमे से अधिकतर को कोरोना संक्रमण होने का पता भी नहीं चला। सभी सैम्पलों का विश्लेषण होने के बाद अंतिम रिपोर्ट में यह प्रतिशत बढ़ भी सकता है ।

ये भी पढ़ें:सीएम रावत ने ‘गोद अभियान’ कुपोषण मुक्त बच्चों के अभिभावकों को किया सम्मानित

antibodies antibodies (social media)

दिल्ली में अब तक तीन सीरो सर्वें हो चुके है

दिल्ली में अब तक तीन सीरो सर्वें हो चुके है। ताजा सर्वें के लिए दिल्ली के 11 जिलों में से 17 हजार सैम्पलों का विश्लेषण किया जा रहा है। जल्द ही इसकी अंतिम रिपोर्ट जारी की जायेगी। दिल्ली में इससे पहले दो और सीरो सर्वें हो चुके है। जून माह के अंत तथा जुलाई माह की शुरुआत में हुए पहले सीरो सर्वे में 21 हजार 300 सैंपल लिए गए थे। इसमे 23.4 प्रतिशत लोगों में एंटीबाडी मिली थी। इसके बाद अगस्त के पहले हफ्ते में दिल्ली में दूसरा सीरो सर्वे हुआ जिसमें 15 हजार सैम्पल लिए गए। इसमे 29.1 प्रतिशत लोगों में एंटीबॉडी पाई गई थी।

इसी तरह पिछले अगस्त माह में पुणे में भी सीरो सर्वें कराया गया था। पुणे में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित पांच इलाकों से 1644 सैम्पल लिए गए। इन सैम्पलो के विश्लेषण से आए नतीजों में पता चला कि 51.5 प्रतिशत लोगों में कोरोना एंटीबाडी विकसित हो चुकी है। दिल्ली और पुणे की तरह यूपी में भी 11 जिलों में सीरो सर्वें कराया गया है लेकिन अभी इसके सैम्पल्स का विश्लेषण चल रहा है।

antibodies antibodies (social media)

इंडियन काउंसिल फार मेडिकल रिसर्च ने भी बीती 11 मई से 04 जून के बीच सीरो सर्वें कराया था

राज्य सरकारों के अलावा इंडियन काउंसिल फार मेडिकल रिसर्च ने भी बीती 11 मई से 04 जून के बीच सीरो सर्वें कराया था। 21 राज्यों के 70 जिलों में कराये गए इस सर्वें में 75 प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्र और 25 प्रतिशत शहरी क्षेत्रों को शामिल किया गया था। इसमें 28 हजार लोगों के सैम्पल्स की जांच की गई थी। पिछले सप्ताह आई इस सीरो सर्वें की रिपोर्ट के मुताबिक ग्रामीण इलाकों के 70 प्रतिशत लोगों में एंटीबाडीज मिली थी।

ये भी पढ़ें:चीन-भारत में तनातनी: सेना को दी ये बड़ी धमकी, LAC पर बढ़ती जा रही टेंशन

बता दे कि सीरो सर्वें के जरिए ये पता किया जाता है कि कोई भी महामारी कितनी आबादी को अपनी चपेट में ले चुकी है। इसमे लोगों के ब्लड सैम्पल लेकर उसमे महामारी की एंटीबाडी की जांच की जाती है। किसी भी व्यक्ति के शरीर में एंटीबाडी तब ही बनती है जब उसे वह बीमारी हो चुकी हो।

मनीष श्रीवास्तव

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story