×

आपके बच्चे को छोटी उम्र में कोई ना कहे चश्मीश, इसके लिए अपनाएं ये टिप्स

आज कल कम उम्र में ही बच्चों की आंखों पर चश्मे चढ़ने लगते हैं। बच्चों पर चश्में लगने की वजह पैरेंट्स बच्चे के टीवी और मोबाइल देखने को मानते हैं। लेकिन बच्चों की आंखों की कमजोरी का कारण टीवी या मोबाइल नहीं,

suman

sumanBy suman

Published on 13 Oct 2019 8:08 AM GMT

आपके बच्चे को छोटी उम्र में कोई ना कहे चश्मीश, इसके लिए अपनाएं ये टिप्स
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

जयपुर: आज कल कम उम्र में ही बच्चों की आंखों पर चश्मे चढ़ने लगते हैं। बच्चों पर चश्में लगने की वजह पैरेंट्स बच्चे के टीवी और मोबाइल देखने को मानते हैं। लेकिन बच्चों की आंखों की कमजोरी का कारण टीवी या मोबाइल नहीं, बल्कि गलत खानपान हैं। खानपान की मदद से बच्चों के शरीर के सभी पोषक तत्वों की भरपाई करनी चाहिए। कुछ टिप्स हैं जिनकी मदद से चश्मे को हटाने में मदद मिलती है।

*अपने भोजन में अधिक-से-अधिक विटामिन ई वाली चीजें शामिल कीजिए। बादाम में सर्वाधिक इसे पाया जाता है। ये आपकी आंखों की रोशनी बढ़ाने में कारगार साबित होता है।

*बादाम एवं गोंद आंखों के लिए काफी लाभकारी होते है, इसलिए बादाम और गोंद से बने लड्डू सेवन कीजिए, इससे आंखों का रोशनी अच्छी रहती है।

राजनीति से नया नहीं हैं खिलाड़ियों का नाता, ये दिग्गज Players लड़ चुके हैं चुनाव

* अंडे में काफी मात्रा में न्यूट्रीशन मौजूद होते हैं, जो हमारी आंखों के लिए लाभकारी हैं। इसलिए अंडे इससे आंखों की रोशनी बढ़ती है। सबसे ज्यादा लाभकारी है आंवला जिसमें विटामिन सी काफी होता है, आप इसे किसी भी रूप में अपने खाने में सम्मिलित कीजिए।

*सौंफ, मिश्री व बादाम को समान मात्रा में लेकर उसका मिश्रण बनाएं व इस पाउडर को दिन में 2-3 बार खाए, इससे आंखों की रोशनी बढ़ती है।

इसके अलावा बच्चों के साथ ये काम भी करें ताकि ना लगे चश्मा

*सुबह-सुबह नंगे पांव ओस पड़ी ,हरी घास पर चलने से आंखों की रोशनी तेज होती है। सबसे पहले ध्यान के आसन में बैठ जाएं। फिर 6 से 7 मीटर दूर रखी किसी चीज को एक टक देखते रहें। इस तरह से ध्यान लगाने से आंखों को आराम मिलता है।

*यह तरीका बहुत ही पुराना है। दोनों हाथेलियों को आपस में 10 से 15 मिनट रगड़े और उसके बाद हल्के से दोनों हाथों को आखों के ऊपर रखें। इससे आंखों को तुरंत आराम मिलेगा।

ख़ुशख़बरी! रिलायंस जियो का प्लान, खरीदें 1299 रू का सेट टॉप बॉक्स और TV फ्री

*अगर कंप्यूटर, लेपटॉप या मोबाइल के सामने हों तो हर 3 से 4 सेकेंड बाद पलकों को झपकाते रहिए। ऐसा करने से आंखों की कसरत होगी और आराम मिलेगा।

*दस बार आंखों को ऊपर-नीचे, दस बार आंखों को दाएं-बाएं तथा दस मिन आयरबार वृत्ताकार घूमाने से आंखों की अच्छी मालिश होती है और इससे आंखों पर पड़ने वाला तनाव भी कम होता है।

*आंखों की जलन को दूर करने के लिए पानी के छींट 2-3 बार आंखों पर मारे। है। इसलिए गाजर आम, पपीता, आजवाइन, रसदार फल, दूध और मक्खन का प्रयोग करना चाहिए। आंखों को आराम देने के लिए सात से आठ घंटा नींद लीजिए। आंख के जलन को दूर करने के लिए आप ठंडे चम्मच को अपनी आंख पर लगाएं।इससे आराम मिलेगा।

दीपिका ने हबी रणवीर के प्यार को लेकर कह दी ये बड़ी बात!

suman

suman

Next Story