अभी-अभी बंगाल में भगदड़: ताबड़तोड़ चली गोलियां, दो की मौत

सीएए और एनआरसी को लेकर पश्चिम बंगाल में बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों पर गोली चला दी गयी। जिससे दो लोगों की मौत हो गयी,वहीं तीन गंभीर तौर पर घाली हो गये

2 died during violence in Bengal for CAA

कोलकाता: नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जारी विरोध आक्रामक हो गया है। दरअसल, सीएए और एनआरसी को लेकर बंद का आह्वान किया गया है। इसी कड़ी में पश्चिम बंगाल में बंद के दौरान प्रदर्शनकारियों पर गोली चला दी गयी। जिससे दो लोगों की मौत हो गयी, वहीं तीन गंभीर तौर पर घाली हो गये। बताया जा रहा है कि तृणमूल कांग्रेस के ब्लॉक प्रमुख ने प्रदर्शनकारियों पर गोली चलाई है। वहीं उग्र प्रदर्शनकारियों ने दो पाहियाँ वाहनों और कारों में आग लगा दी।

सीएए के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन के दौरान हिंसा:

खबर, पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद स्थित जालंगी इलाके से हैं, जहां नागरकिता कानून (CAA-NRC) को लेकर बंद का आयोजन किया था। विरोध प्रदर्शन के दौरान तृणमूल कांग्रेस के ब्लॉक प्रमुख ताहिरुद्दीन शेख का काफिला वहां पहुंचा। इस दौरान उनकी झड़प स्थानीय लोगों में हो गयी। इसके बाद हिंसा भड़की है और गोली बारी शुरू हो गयी।

ये भी पढ़ें: Live: शाहीन बाग़ के प्रदर्शनकारियों का जंतर-मंतर पर हल्ला बोल, मुंबई में रोकी गयी ट्रेन

कथित रूप टीएमसी नेता ने दो लोगों को गोली मार दी। इसके बाद यहां हिंसा भड़क गई और उपद्रवियों ने कई दोपहिया वाहनों और कारों को आग के हवाले कर दिया।

इस हिंसा में दो लोगों की मौत हो गयी और तीन अन्य गंभीर घायल हो गये। वहीं टीएमसी के स्थानीय नेताओं ने इन तमाम आरोपों को खारिज किया है। उन्होंने इस हिंसा के पीछे कांग्रेस और सीपीएम के स्थानीय नेताओं का हाथ बताया है।  उनका आरोप है कि तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता इलाके से गुजर रहे थे, तभी उन पर हमला कर दिया गया। मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स पहुंच गई है और हालत पर काबू पाया जा रहा है। पुलिस मामले की जांच भी कर रही है।

ये भी पढ़ें: दिल्ली चुनाव में BJP को तगड़ा झटका: इन दो नेताओं पर चुनाव आयोग का एक्शन

बता दें कि मुंबई में भी बंद के दौरान लोकल ट्रेन को रोक दिया गया। वहीं शाहीन बाग़ के प्रदर्शनकारी जंतरमन्तर पर प्रदर्शन कर रहे हैं।