श्रम मंत्रालय के 25 अधिकारी कोरोना संक्रमित, संपूर्ण भवन को किया गया सील

मंत्रालय में संक्रमित कर्मचारियों की कुल संख्या बढ़कर 36 हो गई। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अधिकारियों के कुछ पारिवारिक सदस्य भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गए हैं। इससे पहले मंत्रालय में 11 व्यक्ति संक्रमित पाये गए थे।

नई दिल्ली: कोरोना का दायरा बढ़ता जा रहा है। जब से लॉक डाउन ख़त्म हुआ है, संक्रमण का खतरा हर बढ़ गया है। अब यह संक्रमण श्रम एवं रोजगार मंत्रालय तक पहुंच गया है। जहां पर 25 अधिकारी इस सप्ताह कोविड-19 (Covid 19) से संक्रमित पाये गए हैं। मंत्रालय में संक्रमित कर्मचारियों की कुल संख्या बढ़कर 36 हो गई। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अधिकारियों के कुछ पारिवारिक सदस्य भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गए हैं। इससे पहले मंत्रालय में 11 व्यक्ति संक्रमित पाये गए थे।

छह संक्रमित व्यक्ति श्रम मंत्री संतोष गंगवार के निजी कर्मचारी

पाए गए संक्रमित व्यक्तियों में से छह संक्रमित व्यक्ति श्रम मंत्री संतोष गंगवार के निजी कर्मचारी हैं। मंत्रालय में अधिकारियों की कोविड-19 की जांच की जा रही है क्योंकि इसके दो कर्मचारी पिछले सप्ताह संक्रमित पाये गए थे। उसके बाद श्रम शक्ति भवन को दो दिन के लिए सैनेटाइजेशन के लिए बंद कर दिया गया था। मंत्रालय में संक्रमित व्यक्तियों की संख्या रविवार तक बढ़कर 11 हो गई।

ये भी देखें: मारे गए 101 आतंकी: फिर बड़े प्लान की तैयारी, जल्द होगा इनका खात्मा

सूत्र ने यह भी कहा कि मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी इमारत को ठीक तरह से सैनेटाइज करने के लिए इमारत को फिर से सील करने और इमारत में स्थित मंत्रालयों में कार्यरत कर्मचारियों को घर पर अलग करने पर विचार कर रहे हैं।

श्रम मंत्रालय के कुछ अधिकारी आठ जून को भी कार्यालय आये थे

सूत्र ने कहा कि यद्यपि श्रम शक्ति भवन को चार और पांच जून को सील कर दिया गया था लेकिन ऊर्जा मंत्रालय ने अपने कर्मचारियों को कुछ काम के लिए पांच जून को बुलाया था। इसलिए इमारत को आठ जून को नहीं खोलने का निर्णय किया गया। यद्यपि श्रम मंत्रालय के कुछ अधिकारी आठ जून को भी कार्यालय आये थे। इमारत उसके बाद से अधिकारियों के लिए खुली रही।

ये भी देखें: बारिश से मचेगी तबाही: 16 राज्यों में भयंकर खतरा, अब आ रही ये आफत

श्रम एवं रोजगार मंत्रालय में पूर्व में संक्रमित पाये गए 11 अधिकारियों में एक संयुक्त सचिव, एक स्टेनो, एक प्रधान निजी सचिव, एक निजी सचिव, छह मल्टी टास्क असिस्टेंट और एक चालक शामिल था।

संपूर्ण भवन को सैनेटाइजेशन के लिए सील कर दिया गया

दो दिनों के लिए भवन को बंद करना कोविड-19 महामारी से मुकबाले के लिए मानक संचालन प्रक्रिया का हिस्सा था। इसके तहत, यदि दो या अधिक कर्मचारी कोविड-19 से संक्रमित पाए जाते हैं, तो किसी भी मंत्रालय या विभाग के संपूर्ण भवन को सैनेटाइजेशन के लिए सील कर दिया जाता है।

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App