×

इन कारणों से दिल्ली के 5 मेट्रो स्टेशनों पर एंट्री व एग्जिट गेट बंद, ट्वीट कर दी जानकारी

गणतंत्र दिवस  के अवसर पर सुरक्षा कारणों से दिल्ली के 5 मेट्रो स्टेशनों पर एंट्री और एग्जिट गेट बंद कर दिए गए हैं। हालांकि, मंडी हाउस और केंद्रीय सचिवालय इंटरचेंज की सुविधा उपलब्ध रहेगी। सुरक्षा कारणों से दिल्ली मेट्रो के कुछ स्टेशनों पर एंट्री और एग्जिट बंद कर दी गई है।

suman

sumanBy suman

Published on 26 Jan 2020 2:48 PM GMT

इन कारणों से दिल्ली के 5 मेट्रो स्टेशनों पर एंट्री व एग्जिट गेट बंद, ट्वीट कर दी जानकारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: गणतंत्र दिवस के अवसर पर सुरक्षा कारणों से दिल्ली के 5 मेट्रो स्टेशनों पर एंट्री और एग्जिट गेट बंद कर दिए गए हैं। हालांकि, मंडी हाउस और केंद्रीय सचिवालय इंटरचेंज की सुविधा उपलब्ध रहेगी। सुरक्षा कारणों से दिल्ली मेट्रो के कुछ स्टेशनों पर एंट्री और एग्जिट बंद कर दी गई है। सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए खान मार्केट, प्रगति मैदान, मंडी हाउस, उद्योग भवन और केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया है।

यह पढ़ें...भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर को हैदराबाद पुलिस ने किया गिरफ्तार

दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने ट्वीट किया, 'खान मार्केट, सुप्रीम कोर्ट, मंडी हाउस, उद्योग भवन और केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशन के एंट्री और एग्जिट गेट बंद कर दिए गए हैं। दिल्ली मेट्रो के 5 स्टेशनों के बंद होने के बावजूद मंडी हाउस और केंद्रीय सचिवालय मेट्रो स्टेशनों पर यात्री इंटरचेंज कर सकेंगे।



बता दें कि दिल्ली में 71वें गणतंत्र दिवस समारोह के मद्देनजर बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई, जिसके तहत हजारों सशस्त्र कर्मी कड़ी निगरानी कर रहे हैं। दिल्ली पुलिस द्वारा गणतंत्र दिवस समारोह के लिए किए गए इंतजामों में चेहरा पहचान प्रणाली और ड्रोन का इस्तेमाल शामिल है। साथ ही 10 हजार से अधिक सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई है। पुलिस उपायुक्त (नई दिल्ली क्षेत्र) ई. सिंघल ने बताया कि ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो की सुरक्षा के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं जो गणतंत्र दिवस परेड में मुख्य अतिथि हैं।

यह पढ़ें...हैदराबाद पुलिस ने भीम आर्मी चीफ को किया गिरफ्तार, जानिए पूरा मामला

अधिकारियों ने बताया कि रविवार को राजपथ से लालकिले तक के 8 किलोमीटर लंबे परेड मार्ग पर नजर रखने के लिए ऊंची इमारतों पर शार्पशूटर और स्नाइपर तैनात किए गए हैं। संदिग्धों की पहचान के लिए प्रमुख बिंदुओं पर चेहरा पहचान प्रणाली लगाई गई है। उन्होंने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था के तहत सैकड़ों सीसीटीवी कैमरे भी लगाये गए हैं. इसमें से कम से कम 150 कैमरे लालकिला, चांदनी चौक और यमुना खादर में लगाए गए हैं।

पुलिस उपायुक्त ने कहा, ‘हमने चार स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की है। भीतरी, मध्य, बाहरी और राष्ट्रीय राजधानी के बाहर सीमांत क्षेत्रों में।’ उन्होंने बताया कि ड्रोन भी तैनात किए गए हैं। उन्होंने कहा, ‘दिल्ली पुलिस के पांच हजार से छह हजार कर्मी नई दिल्ली जिले में तैनात किए गए हैं। साथ ही अर्द्धसैनिक बलों की 50 हजार कंपनियां भी तैनात की गई हैं।

suman

suman

Next Story