5 साल की बच्ची से घिनौना काम, अस्पताल में मौत से लड़ रही मासूम

दिन पर दिन लड़कियों से दुष्कर्म के मामले बड़ते जा रहे हैं। हर दिन महिलाएं या बच्चियों के साथ कुछ न कुछ होता रहता है। ऐसा ही कुछ अब अमेरिकी दूतावास में पांच वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म का मामला सामने आया है।

Published by Roshni Khan Published: February 5, 2020 | 12:38 pm
Modified: February 5, 2020 | 12:40 pm

नईदिल्ली: दिन पर दिन लड़कियों से दुष्कर्म के मामले बड़ते जा रहे हैं। हर दिन महिलाएं या बच्चियों के साथ कुछ न कुछ होता रहता है। ऐसा ही कुछ अब अमेरिकी दूतावास में पांच वर्षीय बच्ची से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। अमेरिकी दूतावास में ही रहने वाले युवक ने बच्ची को अपने क्वार्टर में ले जाकर उसके साथ ये काम किया। चाणक्यपुरी थाना पुलिस ने दुष्कर्म और पोक्सो की धारा 4 व 6 में मामला दर्ज कर आरोपी युवक को अरेस्ट किया।

दुष्कर्म के बाद बच्ची को पहले प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बच्ची की गंभीर हालत को देखते हुए परिजनों ने उसे एम्स में भर्ती कराया। एम्स में बच्ची को कई घंटे रखा गया था। इस घटना के बाद बच्ची सदमे में है। एक ही कंपाउंड में रहने की वजह से पीड़ित बच्ची आरोपी को चाचू कहकर बुलाती थी।

ये भी पढ़ें:देशद्रोह के केस में फंसी उर्वशी, किया था-‘ शरजील के सपने को मंजिल देने की बात’,

नई दिल्ली जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार पीड़ित बच्ची अपने माता-पिता के साथ अमेरिकी दूतावास परिसर में रहती है। बच्ची के पिता दूतावास में काम करते हैं, जिस वजह से उन्हें दूतावास में क्वार्टर मिला हुआ है। आरोपी विक्की (25) के माता-पिता भी अमेरिकी दूतावास में काम करते हैं। इस वजह से उन्हें भी दूतावास में क्वार्टर मिला हुआ है। एक फरवरी को विक्की घर पर अकेला था। उसके पिता राजकुमार दूतावास में काम करने गए हुए थे, जबकि मां गाजियाबाद अपने घर गई थी। पीड़ित बच्ची दूतावास में एक फरवरी की दोपहर घर के बाहर खेल रही थी। उसके माता-पिता घर के अंदर थे। तभी आरोपी बच्ची को अपने क्वार्टर में ले गया।

ये भी पढ़ें:भारतीय दुल्हनिया का फ्रांसीसी दूल्हा, गजब की है ये लवस्टोरी

आरोपी ने यहां बच्ची से पहले दुष्कर्म किया और फिर कुकर्म किया। लहूलुहान अवस्था में बच्ची घर पहुंची तो माता-पिता को सारी बात बताई। माता-पिता उसे शांति निकेतन स्थित डा। यादव क्लीनिक ले गए। उसके बाद बच्ची को वहां से एम्स भेजा गया। बच्ची को एम्स में 5 से 6 घंटे रखा गया। पीड़ित बच्ची की मां ने इसकी सूचना पुलिस को दी। उस समय एम्स से भी रिपोर्ट चाणक्यपुरी थाने पहुंच गई। चाणक्यपुरी पुलिस ने मामला दर्जकर सोमवार को विक्की को अरेस्ट कर लिया। उसे सोमवार को कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने आरोपी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। आरोपी विक्की ड्राइवर की नौकरी करता था।