×

भारतीयों की मिली लाशें: खबर आते ही पूरी दुनिया में मची खलबली

पड़ोसी राष्ट्र नेपाल की राजधानी काठमांडू से 201 किलोमीटर की दूरी पर स्थित पोखरा में 8 भारतीय नागरिकों की मौत हो गई। मिली जानकारी के अनुसार इन नागरिकों में..

Deepak Raj

Deepak RajBy Deepak Raj

Published on 21 Jan 2020 10:24 AM GMT

भारतीयों की मिली लाशें: खबर आते ही पूरी दुनिया में मची खलबली
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

काठमांडू/नई दिल्ली। पड़ोसी राष्ट्र नेपाल की राजधानी काठमांडू से 201 किलोमीटर की दूरी पर स्थित पोखरा में 8 भारतीय नागरिकों की मौत हो गई। मिली जानकारी के अनुसार इन नागरिकों में चार बच्चे शामिल हैं।

समाचार एजेंसी पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार जिस होटल में सभी रुके थे, उसमें संदिग्ध गैस लीक होने की वजह से वे बेहोश हो गए और उनकी मौत हो गई। सभी भारतीय नागरिकों को आनन-फानन में अस्पताल लाया गया जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

ये भी पढ़ें-उच्च गुणवत्ता एवं भरोसेमंद समाचारों के लिए ‘न्यूज टैब’ बनाएगा फेसबुक

इलाके के एसपी सुशील सिंह राठौड़ ने कहा कि मृतकों में 39 वर्षीय प्रबीन कुमार नायर, 34 वर्षीय शरण्य, 39 वर्षीय रंजीत कुमार टीबी, 34 वर्षीय इंदू रंजीत, 9 वर्षीय श्री भद्र, 9 वर्षीय अबिनब सोराया, 7 वर्षीय अबी नायर और 2 वर्षीय रंजीत शामिल हैं।

नेपाल के अखबार एक के अनुसार सभी केरल से पोखरा आए थे। वह अपने घर लौट रहे थे। इसी दौरान मकवानपुर जिले के एक रेजॉर्ट में रुके थे। सोमवार रात को सभी रेजॉर्ट पहुंचे। होटल के मैनेजर ने बताया कि कमरा गर्म करने के मकसद से गैस हीटर ऑन कर दिया।

मौत वेंटिलेशन की कमी के कारण हुई

15 लोगों के समूह में लोगों ने चार कमरे बुक कर रखे थे। 8 लोग एक ही कमरे में थे और बाकी लोग अलग-अलग कमरों में थे। मैनेजर ने बताया कि सभी दरवाजें और खिड़कियां अंदर से बंद थे। पुलिस ने शक जाहिर किया कि सभी की मौत वेंटिलेशन की कमी के कारण हुई है।

ये भी पढ़ें-कश्‍मीर हमले पर मर्माहत संत बोले, शठे शाठ्यम समाचरेत्

ये भी पढ़ें-अब माकूल जवाब देने में देर नहीं हो, बहुत लंबा हो गया फिदायीन हमलों का इतिहास

इस घटना में केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने विदेश मंत्री एस जयशंकर को पत्र लिखकर अपने मंत्रालय से 8 लोगों के परिवारों को सहायता प्रदान करने के लिए हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है

Deepak Raj

Deepak Raj

Next Story