इस प्रदेश में सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी आम आदमी पार्टी, कर दिया ये बड़ा एलान

देश की राजधानी दिल्ली की सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी(आप) अब उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयार कर रही है। देहरादून में उत्तराखंड कार्यकारिणी के कुछ नेताओं ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बात कही।

देहरादून: देश की राजधानी दिल्ली की सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी(आप) अब उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयार कर रही है। देहरादून में उत्तराखंड कार्यकारिणी के कुछ नेताओं ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह बात कही।

बता दें कि उत्तराखंड के गठन के बाद से पिछले 20 सालों में यहां देश की राष्ट्रीय पार्टियां बीजेपी और कांग्रेस की ही सरकार रही है। इनके अलावा कोई दूसरी पार्टी उभर नहीं पाई। वर्तमान में प्रदेश की सत्ता पर बीजेपी काबिज है। 2017 प्रदेश विधानसभा चुनाव में बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला था।

प्रदेश में उत्तराखंड क्रांति दल और बहुजन समाज पार्टी(बसपा) को जरूर कुछ सीटों पर 2017 से पहले जीत हासिल हुई थी। 2017 के विधानसभा चुनाव में 70 में 57 सीटों पर बीजेपी ने जीत हासिल की, तो वहीं कांग्रेस 11 सीटों पर ही सिमट गई। जबकि 2 सीटों पर निर्दलियों ने जीत हासिल की है।

यह भी पढ़ें…अयोध्याः बेरोजगारों के लिए बड़ा कदमः मिलेगा प्रशिक्षण के साथ रोजगार

अब दिल्ली में सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी को लग रहा है कि 2022 के उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में वह कमाल कर सकती है। आप को भरोसा है कि लोग बीजेपी के खिलाफ कांग्रेस की जगह उसे चुनेंगे। आप के प्रदेश कार्यकारिणी से संबंधित कुछ नेताओं ने देहरादून में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। प्रदेश संगठन मंत्री डीके पाल ने कहा कि अब 70 विधानसभा में प्रभारी और प्रदेश प्रभारी बना दिए गए हैं और पार्टी अपने 10 हज़ार बूथ पर यूथ को अपने साथ जोड़ेगी।

यह भी पढ़ें…ड्राइविंग लाइसेंस पर बड़ा फैसला, मोदी सरकार ने किया ये एलान

‘पार्टी को मजबूत बनाया जाएगा’

डीके पाल ने कहा कि जिस तरह दिल्ली में पानी, बिजली, शिक्षा और स्वास्थ्य की सुविधा सुधरी है। वैसी ही व्यवस्था आप उत्तराखंड की जनता को उपलब्ध कराएगी। आप नेताओं ने कहा कि दिल्ली से उत्तराखंड 200 किलोमीटर दूर है और 30 लाख के करीब उत्तराखंड के लोग दिल्ली में रहते हैं। उनको मालूम है कि वहां सरकार कैसे काम कर रही है। आप के नेताओं ने कहा कि वो जल्द देहरादून में प्रदेश कार्यालय खोलेंगे। इसके बाद फिर गैरसैण के पास भी ऑफिस खोला जाएगा जिससे पहाड़ और मैदान दोनों जगह पार्टी को मजबूत बनाया जा सके।