चमकी बुखार : बलिया के अस्पतालों को एलर्ट रहने के निर्देश

बिहार के मुजफ्फरपुर और उसके आसपास के जिलों में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) अथवा चमकी बुखार भीषण गर्मी और उमस के बीच तेजी से फैल रहा है ।

Published by PTI Published: June 20, 2019 | 6:53 pm
Modified: June 20, 2019 | 6:57 pm

चमकी बुखार : बलिया के अस्पतालों को एलर्ट रहने के निर्देश

बलिया:  बिहार के मुजफ्फरपुर और उसके आसपास के जिलों में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) अथवा चमकी बुखार भीषण गर्मी और उमस के बीच तेजी से फैल रहा है ।

ऐसे में बिहार से सटे पूर्वांचल के जिलों में भी इसके फैलने की आशंका के मद्देनजर बलिया जिले के सभी राजकीय व मंडलीय अस्पताल और स्वास्थ्य केंद्रों को एलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं ।

यह भी पढ़ें…..दक्षिण कोरिया: इस मामले को लेकर न्यायाधीश को बर्खास्त करने की उठी मांग

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ पी के मिश्र ने गुरुवार को बताया कि यह बुखार 15 वर्ष तक के बच्चों को अधिक प्रभावित करता है ।

मिश्र ने कहा कि किसी बच्चे में कोई भी लक्षण नजर आए तो उसे नजदीक के अस्पताल ले जाएं ।

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग इस रोग को नियंत्रित करने व आम जन को इस बुखार के लक्षण और उससे बचाव के बारे में जागरुक करने का प्रयास कर रहा है ।

भाषा सं अमृत शोभना शोभना 2006 1833 बलिया जसजस आवश्यक .बलिया प्रादे 71 बुखार एलर्ट चमकी बुखार : बलिया के अस्पतालों को एलर्ट रहने के निर्देश बलिया, 20 जून (भाषा) बिहार के मुजफ्फरपुर और उसके आसपास के जिलों में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) अथवा चमकी बुखार भीषण गर्मी और उमस के बीच तेजी से फैल रहा है ।

यह भी पढ़ें…..पश्चिम बंगाल: BJP और TMC में भिड़ंत, 2 की मौत, इन क्षेत्रों में लगी धारा 144

ऐसे में बिहार से सटे पूर्वांचल के जिलों में भी इसके फैलने की आशंका के मद्देनजर बलिया जिले के सभी राजकीय व मंडलीय अस्पताल और स्वास्थ्य केंद्रों को एलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं ।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ पी के मिश्र ने गुरुवार को बताया कि यह बुखार 15 वर्ष तक के बच्चों को अधिक प्रभावित करता है ।

मिश्र ने कहा कि किसी बच्चे में कोई भी लक्षण नजर आए तो उसे नजदीक के अस्पताल ले जाएं ।

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग इस रोग को नियंत्रित करने व आम जन को इस बुखार के लक्षण और उससे बचाव के बारे में जागरुक करने का प्रयास कर रहा है ।

(भाषा)

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App