Top

अडानी ग्रुप को चाहिए छह महीने, इस काम के लिए मांगा सरकार से वक्त

भारत के छह एयरपोर्ट की नीलामी में अडानी ग्रुप में अधिक बोली लगाकर एयरपोर्ट को खरीद लिया था। लेकिन अब अडानी ग्रुप में इनके संचालन को लेकर सरकार से समय माँगा है। इसमें कोरोना वायरस के संकट का हवाला दिया गया।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 4 Jun 2020 3:39 PM GMT

अडानी ग्रुप को चाहिए छह महीने, इस काम के लिए मांगा सरकार से वक्त
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: कोरोना संकट के कारण आम लोगों समेत भारत के अरबपति और बड़े उद्यमी भी प्रभावित है। यही वजह है कि अडानी ग्रुप में सरकार ने एक बड़े प्रोजेक्ट को लेकर समय माँगा है।

लखनऊ सहित तीन एयरपोर्ट के टेकओवर के लिए माँगा समय

दरअसल, भारत के छह एयरपोर्ट की नीलामी में अडानी ग्रुप में अधिक बोली लगाकर एयरपोर्ट को खरीद लिया था। लेकिन अब अडानी ग्रुप में इनके संचालन को लेकर सरकार से समय माँगा है। इसमें कोरोना वायरस के संकट का हवाला दिया गया।

एयरपोर्ट नीलामी में लगाई थी अडानी ग्रुप में सबसे ज्यादा बोली:

एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया (AAI) ने साल 2019 में भारत के 6 एयरपोर्ट की नीलामी की थी, जिसमें अडानी ग्रुप में सभी एयरपोर्ट की सबसे ज्यादा बोली लगाकर इनके अधिग्रहण पर समझौता किया था। समझौते के तहत अडानी ग्रुप को इन सही छ एयरपोर्ट के संचालन, विकास और रख रखाव की जिम्मेदारी मिली थी। हालाँकि फरवरी 2020 में इनमे से सिर्फ तीन एयरपोर्ट को टेकओवर के लिए समझौते पर हस्ताक्षर हुआ था,अन्य तीन पर केंद्रीय मंत्रिमंडल को फैसला लेना था।

ये भी पढ़ेंः प्रवासी मजदूरों के लिए खुशखबरी, खाते में आएंगे इतने हजार रुपए

इन एयरपोर्ट की हुई थी नीलामी :

बता दें कि सरकार ने सार्वजनिक-निजी भागीदारी (PPP) के तहत जिन छह एयरपोर्ट की नीलामी को मंजूरी दी थी, उसमे अहमदाबाद, तिरुवनंतपुरम, लखनऊ, मंगलुरु, जयपुर और गुवाहाटी शामिल है।

वहीं अब देश के हालात कोरोना वायरस के कारण बिगड़े हुए हैं। लॉकडाउन के चलते उड़ाने रद्द कर दी। जिससे उड्डयन विभाग बुरी तरह प्रभावित हुआ। धिकांश एयरलाइनों ने वेतन में कटौती की है। कर्मचारियों की छटनी हुई। 70 दिनों बाद उड़न सेवा शुरू हुई लेकिन पूर्व की तरह उड़ड्न सेक्टर को पटरी पर लाने के लिए समय लगेगा।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story