10वीं मंजिल से कूदकर इस नामचीन अस्पताल के डॉक्टर ने कर लिया सुसाइड

दिल्ली एम्स में 25 वर्षीय रेजिडेंट डॉक्टर ने 10वीं मंजिल से कूदकर सुसाइड कर लिया। उसे सीरियस कंडीशन में हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था।

नई दिल्ली: दिल्ली एम्स में 25 वर्षीय रेजिडेंट डॉक्टर ने 10वीं मंजिल से कूदकर सुसाइड कर लिया। उसे सीरियस कंडीशन में हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था। उसकी सुसाइड की खबर पाकर दिल्ली पुलिस एम्स पहुंची थी। उसे इलाज के लिए लाया गया लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी।

पुलिस ने बताया कि डॉक्टर को गंभीर चोटें आई थीं। जिसके बाद उसकी हालात नाजुक थी। डॉक्टरों ने उसे बचाने की कोशिश की लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका।

प्राप्त जानकारी के अनुसार डॉक्टर डिप्रेशन से ग्रस्त था। वह अपनी मां के साथ रहता था। आज शाम को तकरीबन 5 बजे वह छात्रावास की इमारत से कूद गए। पुलिस ने बताया कि डॉक्टर का मोबाइल भी छत से ही मिला है। पुलिस ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

बता दें की अभी बीते दिनों एम्स के ट्रामा सेंटर मे एक पत्रकार ने फोर्थ फ्लोर से छलांग जान दे थी। जिसके बाद हाथ मिनिस्टर ने जांच के लिए हाई लेवल कमिटी भी गठित की थी।

इस मामले में एम्स की प्रतिक्रिया सामने आई थी। बताया गया कि पत्रकार का टेस्ट कोरोना पॉजिटिव आया था। वह ट्रामा सेंटर की पहली मंजिल पर भर्ती थे लेकिन चौथी मंजिल से कूदकर उन्होंने जान दे दी थी।

एम्स के डॉ. गुलेरिया का दावा-कोरोना सबसे ज्यादा इस महीने में मचाएगा तांडव

दिल्ली एम्स के कैंसर विभाग की नर्स कोरोना पॉजिटिव, 2 बच्चे भी संक्रमित

एम्स की ऐसी तैयारी देख देश छोड़कर भाग जाएगा कोरोना वायरस

एम्स में बड़ी लापरवाही आई सामने

उधर एम्स में एक बड़ी लापरवाही का केस सामने आया है। एम्स में कोरोना संक्रमित दो महिलाओं की मौत के बाद उनका शव अलग-अलग परिवारों को हैड ओवर कर दिया गया। मामले की जानकारी होने के बाद से  परिजनों ने एम्स ट्रॉमा सेंटर में बवाल कर दिय। एम्स के वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी खबर मिली तो तुरंत जांच बिठा दी गई और एक कर्मचारी को लापरवाही में निलंबित भी किया गया है।

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App