Top

वैक्सीन की कीमत: AIIMS डायरेक्टर ने बताई, 1 मार्च से मिलेगी निजी अस्पतालों में

एक मार्च से निजी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीनेशन होगा। सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन फ्री लगेगी तो वहीं प्राइवेट अस्पतालों में इसके लिए कीमत चुकानी होगी।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 24 Feb 2021 3:48 PM GMT

वैक्सीन की कीमत: AIIMS डायरेक्टर ने बताई, 1 मार्च से मिलेगी निजी अस्पतालों में
X
AIIMS ने निदेशक ने कोरोना पर दी खुशखबरी, वैक्सीन को लेकर कही ये बात
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : भारत में कोरोनावायरस के बढ़ते कोरोना के मामलों और वैक्सीनेशन अभियान से ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ने को लेकर एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कई अहम जानकारी दी। रणदीप गुलेरिया ने बताया कि कोरोना का नया स्ट्रेन कितना खतरनाक हैं। वहीं उन्होंने ये भी जानकारी दी कि वैक्सीन का कोरोना पर क्या असर पड़ेगा।

निजी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीनेशन की कीमत

दरअसल, एक मार्च से निजी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीनेशन शुरू हो जाएगा। जहां सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन फ्री लगेगी तो वहीं प्राइवेट अस्पतालों में इसके लिए कीमत चुकानी होगी। हालाँकि अभी इसकी कीमत का खुलासा नहीं हुआ है। बुजुर्गों का या कहें कि 45 साल से ज्यादा उम्र वालों का भी अब वैक्सीनेशन हो सकेगा। इस एलान के बाद एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने प्राइवेट अस्पतालों में वैक्सीन की कीमत पर जानकारी दी कि इसमें जरूरी खर्च जोड़े जाएंगे जिससे अस्पतालों को भी नुकसान नहीं होगा।

ये भी पढ़ेँ- अब बुजुर्गों की बारी: इस दिन से दिया जाएगा टीका, मोदी सरकार ने दी हरी झंडी

एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने दी जानकारी

गुलेरिया ने कहा है कि देश फिलहाल दो वैक्सीन का इस्तेमाल कर रहा है, जो निश्चित तौर पर गंभीर संक्रमण से बचाएंगी। हलांकि कोरोना का नया स्ट्रेन चिंता का विषय हैं। उन्होंने बताया कि हमारे पास जो वैक्सीन हैं उनकी एफिकेसी रेट 70, 80, 90 प्रतिशत तक है, ऐसे में अगर एफिकेसी रेट में कुछ कमी भी रह जाए तो भी ये प्रभावकारी साबित होंगी।

Covid-19 Vaccine

अब इन लोगों को दी जाएगी कोरोना वैक्सीन

बता दें कि केंद्रीय मंत्री की मानें तो एक मार्च से ही 45 साल से अधिक उम्र वाले लोगों को वैक्सीन की डोज देना शुरू कर दिया जाएगा। ये वो लोग होंगे जिन्हें पहले से ही किसी तरह की गंभीर बीमारी है। वहीं, देश के जिन दस हजार सरकारी सेंटर्स पर लोग टीकाकरण (Vaccination) के लिए जाएंगे, उन्हें वैक्सीन का टीका मुफ्त में लगाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: नंबर वन हुआ UP: पीएम किसान सम्मान निधि योजना, कृषि मंत्री शाही ने ग्रहण किया पुरस्कार

प्राइवेट हॉस्पिटल्स में टीके के लिए देने होंगे पैसे

प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि जो लोग टीकाकरण (Vaccination) के लिए प्राइवेट अस्पतालों (Private Hospitals) में जाएंगे, उन्हें पैसे देने होंगे। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जल्द ही कोरोना वायरस (Corona Virus) वैक्सीन के दाम भी जारी कर दिए जाएंगे। केंद्रीय मंत्री के मुताबिक, 16 जनवरी से 24 फरवरी तक करीब 1.07 करोड़ लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका है, जबकि 14 लाख लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज भी दे दी गई है।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story