रक्षा मंत्री ने किया आगाह: चीन खतरे का दिया संकेत, कहा तैयार रहे वायुसेना

वायुसेना कमांडर्स की कांफ्रेंस में राजनाथ सिंह ने लद्दाख में वायुसेना की भूमिका की जमकर तारीफ की। साथ ही कहा कि हमें सतर्क रहने की जरूरत है।

नई दिल्ली: चीन के साथ जारी सीमा विवाद के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को वायु सेना कमांडर सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित किया। वायुसेना कमांडर्स की कांफ्रेंस में राजनाथ सिंह ने लद्दाख में वायुसेना की भूमिका की जमकर तारीफ की। साथ ही कहा कि हमें सतर्क रहने की जरूरत है। कांफ्रेंस की अध्यक्षता वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने की।

यह भी पढ़ें: लड़कियों की लाशें: यूपी में ऐसी हैवानियत देख डरे लोग, एक्शन में आई पुलिस

तीव्र तैनाती से दुश्मनों को गया कड़ा संदेश

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि लद्दाख की स्थिति को देखते हुए अग्रिम ठिकानों पर भारतीय वायु सेना की ओर से की गई तीव्र तैनाती से दुश्मनों को कड़ा संदेश गया है। उन्होंने यह भी कहा कि अगर चीन के साथ युद्ध जैसी स्थिति बनती है तो इंडियन एयरफोर्स को शॉर्ट नोटिस पर ही अपने हथियारों को तैनात कर लेना है। इस बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सभी सात कमांडर-इन-चीफ भी शामिल हुए।

यह भी पढ़ें: विकास दुबे मुठभेड़ः अब जस्टिस चौहान करेंगे हेड, जांच आयोग हुआ पुनर्गठित

IAF की भूमिका को राष्ट्र सैल्यूट कर रहा है

वहीं अपने एक ट्वीट में रक्षा मंत्री ने लिखा कि आज वायु सेना कमांडर सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित किया। सबसे चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में IAF की भूमिका को राष्ट्र सैल्यूट कर रहा है। COVID-19 महामारी के मद्देनजर देश के लिए प्रतिक्रिया और उनके योगदान को काफी सराहा है।

LAC के पास बढ़ाई गई तैनाती

बता दें कि पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच बढ़ते तनाव को देखते हुए भारतीय वायुसेना की ओर से LAC के पास अपने सभी प्रमुख केंद्रों पर लड़ाकू विमानों, हेलीकॉप्टरों और परिवहन बेड़े की तैनाती बढ़ाई जा रही है। वहीं हाल ही में भारत ने अपनी सीमा की सुरक्षा में भारतीय नौसेना के पनडुब्बी रोधी पी-8आई लड़ाकू विमान को भी एलएसी पर निगरानी के लिए तैनात किया है।

यह भी पढ़ें: राजस्थान स्पीकर को झटकाः सुप्रीम कोर्ट का तुरंत सुनवाई से इनकार, कहा पहले ये करें

नौसेना का पनडुब्बी रोधी P-8 I लड़ाकू विमान लद्दाख में तैनात

इंडियन नेवी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर निगरानी को लेकर सतर्क है। ऐसे में नौसेना ने पोसाइडन 8-आई पनडुब्बी रोधी युद्धक विमान एलएसी के पास तैनात किया है। इसके अलावा कहा जा रहा है कि भारत जल्द ही ‘मिग-29 K’ लड़ाकू विमानों को भी सीमा पर अहम ठिकानों पर तैनात करेगा।

यह भी पढ़ें: भूकंप से हिली धरती: 7.8 की तीव्रता से कांप उठा देश, जारी हुआ सुनामी का अलर्ट

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App