Top

Air India की महिला पायलट टीम रचेगी कीर्तिमान, उत्तरी ध्रुव के ऊपर भरेगी उड़ान

ये महिलाएं 17 घंटे की लंबी कॉमर्शियल उड़ान भरकर अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को शहर से भारत के बेंगुलुरु आने जा रही है। एयर इंडिया की यह सबसे लंबी नॉन स्टॉप कॉमर्शियल फ्लाइट का संचालन होगा। इस टीम में चार महिला पायलट शामिल हैं।

Ashiki Patel

Ashiki PatelBy Ashiki Patel

Published on 9 Jan 2021 1:20 PM GMT

Air India की महिला पायलट टीम रचेगी कीर्तिमान, उत्तरी ध्रुव के ऊपर भरेगी उड़ान
X
Air India की महिला पायलट टीम रचेगी कीर्तिमान, उत्तरी ध्रुव के ऊपर भरेगी उड़ान
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: एयर इंडिया की पहली नॉन स्टॉप सर्विस आज से यानी 9 जनवरी 2021 से शुरू हो रही है। इसमें एयर इंडिया की महिला पायलट की टीम अब एक नया इतिहास रचने को तैयार हो चुकी हैं। महिला पायलटों की ये टीम दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग यानी उत्तरी ध्रुव पर उड़ान भरने जा रही हैं। इसमें एयर इंडिया की महिला पायलट टीम सैन फ्रांसिस्को से बेंगलुरु के बीच उड़ान भरकर सबसे लंबे एयर रूट का हिस्सा बनेंगी।

भरेंगी 17 घंटे की लंबी कॉमर्शियल उड़ान

बता दें कि ये महिलाएं 17 घंटे की लंबी कॉमर्शियल उड़ान भरकर अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को शहर से भारत के बेंगुलुरु आने जा रही है। एयर इंडिया की यह सबसे लंबी नॉन स्टॉप कॉमर्शियल फ्लाइट का संचालन होगा। इस टीम में चार महिला पायलट शामिल हैं। 16,000 किलोमीटर लंबे हवाई मार्ग पर ये चालक दल सैन फ्रांसिस्को से बोईंग विमान 777-200LR लेकर आ रहा है, जो 11 जनवरी की सुबह 3.45 बजे बेंगलुरु पहुंचेगा।

ये भी पढ़ें: भारत में 16 जनवरी से लगाया जाएगा कोरोना का टीका, यहां पढ़ें पूरी डिटेल्स

नुभवी पायलटों को ही दी जाती है जिम्मेदारी

इस बारे में एअर इंडिया के एक अधिकारी ने बताया कि उत्तरी ध्रुव में उड़ान भरना बेहद चुनौतीपूर्ण है और एयरलाइन कंपनियां इस मार्ग पर अपने सर्वश्रेष्ठ और अनुभवी पायलटों को ही भेजती हैं। उन्होंने बताया कि इस बार एअर इंडिया ने सैन फ्रांसिस्को से बेंगलुरु तक के ध्रुवीय मार्ग से यात्रा के लिए एक महिला कैप्टन को इसकी जिम्मेदारी सौंपी है।

लीड पायलट कैप्टन जोया अग्रवाल ने जताई ख़ुशी

एअर इंडिया की लीड पायलट कैप्टन जोया अग्रवाल ने बताया कि यह 16,000 किलोमीटर की दूरी है। इसलिए, हमलोग दुनिया की सबसे लंबी उड़ान पर होंगे। उन्होंने बताया कि हम उत्तरी ध्रुव पर के ऊपर उड़ान भरने की कोशिश करने जा रहे हैं और आशा करते हैं कि हम ध्रुवीय क्षेत्र को पार करेंगे सभी प्रकार के रिकॉर्ड तोड़ेंगे। आगे उन्होंने बताया कि मैं खुश हूं क्योंकि सिविल एविएशन मिनिस्टर और हमारे फ्लैग कैरियर ने हम पर विश्वास जताया। मुझे इस बात का बहुत गर्व है कि मेरे पास अनुभवी महिलाओं की टीम है, जिसमें कैप्टन पपागरी थनमाइ, कैप्टन अकांक्षा सोनावने और कैप्टन शिवानी मन्हास शामिल हैं।

ये भी पढ़ें: लाखों कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, इस महीने मिलेगी बढ़कर सैलरी

11 जनवरी को भारत पहुंचेगी टीम

जानकारी के लिए बता दें कि यह उड़ान आज यानी 9 जनवरी को सैन फ्रांसिस्को से 8.30 बजे भारत के लिए रवाना हो चुकी है। 11 जनवरी, सोमवार को बेंगलुरु के केम्पेगौड़ा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सुबह 3.45 बजे इसके लैंड करने की उम्मीद है।

सिविल एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह पुरी ने भी इस बारे में ट्वीट कर बताया कि फ्लाइट में केवल महिला पायलटों की टीम शनिवार को अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को शहर से बेंगलुरु के लिए उड़ान भरेगी।



Ashiki Patel

Ashiki Patel

Next Story