कुर्सी के खेल में कुर्सी मिली खाली! सीएम फडणवीस की मीटिंग में नहीं पहुंचे अजित पवार

वर्ल्ड बैंक के प्रतिनिधियों के साथ सूखा, बाढ़ और आपदा प्रबंधन को लेकर आयोजित बैठक में सीएम देवेंद्र फडणवीस के बगल वाली कुर्सी जो डेप्युटी सीएम के लिए रिजर्व थी वो खली दिखी। इसके बाद से ही कयास लग रहे हैं कि क्या अजित पवार एक बार फिर से अपना रुख बदल सकते हैं।

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति में आखिर कौन किसके साथ है? अभी तक इस ड्रामे में पता नही चल पा रहा है। जनता अभी भी बेहद कंफ्यूज है। बता दें कि शनिवार को सुबह देवेंद्र फडणवीस के साथ डेप्युटी सीएम की शपथ लेने वाले अजित पवार सीएम की एक अहम मीटिंग में नहीं पहुंचे।

ये भी देखें : सुनसान और वीरान द्वीप पर एक महिला के साथ तीन पर्यटक…

वर्ल्ड बैंक के प्रतिनिधियों के साथ सूखा, बाढ़ और आपदा प्रबंधन को लेकर आयोजित बैठक में सीएम देवेंद्र फडणवीस के बगल वाली कुर्सी जो डेप्युटी सीएम के लिए रिजर्व थी वो खली दिखी। इसके बाद से ही कयास लग रहे हैं कि क्या अजित पवार एक बार फिर से अपना रुख बदल सकते हैं।

इस बीच महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने बेमौसम बारिश से प्रभावित हुए किसानों के लिए 5,380 करोड़ रुपये आवंटित करने का फैसला लिया है। सीएम ने यह राशि महाराष्ट्र आपदा राहत कोष से जारी की है।

सीएमओ महाराष्ट्र के ट्विटर हैंडल से बताया गया है कि वर्ल्ड बैंक के साथ मीटिंग में बाढ़ वाले इलाकों के पानी को सूखा प्रभावित इलाकों में पहुंचाने की योजना पर बात हुई।

ये भी देखें : उत्तर प्रदेश विधानसभा का विशेष सत्र मंगलवार को

महाराष्ट्र सीएमओ के मुताबिक इस स्कीम में वर्ल्ड बैंक कुल 3,500 करोड़ रुपये खर्च करेगा। इसमें से 350 करोड़ रुपये की राशि तकनीकी सहायता में इस्तेमाल की जाएगी।