Top

महाराष्ट्र में लेटर बम के बाद पवार के घर बैठक, गृह मंत्री देशमुख पर हुआ ये बड़ा फैसला

शरद पवार के घर हुई बैठक के बाद महाराष्ट्र सरकार में जयंत पाटील ने कहा कि गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे की आवश्यकता नहीं। उन्होंने कहा कि जो भी दोषी होगा उसपर कार्रवाई की जाएगी। एटीएस और एनआईए जांच कर रही है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 21 March 2021 4:46 PM GMT

महाराष्ट्र में लेटर बम के बाद पवार के घर बैठक, गृह मंत्री देशमुख पर हुआ ये बड़ा फैसला
X
शरद पवार के घर हुई बैठक के बाद महाराष्ट्र सरकार में जयंत पाटील ने कहा कि गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे की आवश्यकता नहीं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: परमबीर सिंह की चिट्ठी के बाद महाराष्ट्र की सियासत में भूचाल आ गया है। इस बीच रविवार को दिल्ली में एनसीपी चीफ शरद पवार के घर अघाड़ी गठबंधन के नेताओं की बैठक हुई। इसमें कांग्रेस की तरफ से कमलनाथ ने हिस्सा लिया। इससे शिवसेना नेता संजय राउत ने शरद पवार से मिले।

शरद पवार के घर हुई बैठक के बाद महाराष्ट्र सरकार में जयंत पाटील ने कहा कि गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे की आवश्यकता नहीं। उन्होंने कहा कि जो भी दोषी होगा उसपर कार्रवाई की जाएगी। एटीएस और एनआईए जांच कर रही है।

जयंत पाटील ने कहा कि प्रदेश की सरकार अच्छे से जांच करेगी, कोई भी अधिकारी चाहे कितना भी बड़ा क्यों ना हो। सरकार का यह निश्चय है। इस पत्र से जांच को विचलित करने की कोशिश की गई है। फिलहाल अनिल देशमुख के इस्तीफे की आवश्यकता नहीं है।

ये भी पढ़ें...तलवार से कांपी पुलिस: घायल SHO ने ऐसे लिया बदला, तड़ातड़ गोलियाँ हमलावरों पर

गौरतलब है कि शरद पवार के घर पर एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले, महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजित पवार थे। इसके साथ ही प्रफुल्ल पटेल और जयंत पाटील समेत महाराष्ट्र के बड़े नेता भी इस बैठक में शामिल रहे हैं। महाराष्ट्र में सियासी बवाल पर पवार के आवास पर तीन घंटे बैठक हुई।

बता दें कि पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख पर 100 करोड़ की वसूली के आरोप लगाए थे। इसके बाद अघाड़ी सरकार में हलचल मची हुई है। ऐसे में एनसीपी चीफ संग गठबंधन के नेताओं की बैठक कई मायनों में अहम मानी जा रही है।

ये भी पढ़ें...बाजार बंद: अभी-अभी नाइट कर्फ्यू का ऐलान, राजस्थान सरकार ने लिया बड़ा फैसला

इससे पहले एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने आज मीडिया से बात करते हुए परमबीर सिंह के 100 करोड़ वाले खत पर बयान जारी किया। शरद पवार ने अनिल देशमुख पर 100 करोड़ की वसूली वाले आरोप को गंभीर बताया।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story