कमलेश तिवारी के बाद एक और हत्या, बीजेपी में मच गया हड़कंप

बीजेपी और टीएमसी करकर्ताओं के बीच बहस इतनी बढ़ गयी कि दोनों गुटों के बीच लड़ाई छिड़ गयी। आलम ये हो गए कि टीएमसी के एक कार्यकर्ता ने फायरिंग कर दी। फायरिंग की वजह से सनकारी बागड़ी को गोली लगी और उनकी मौके पर ही मौत हो गयी।

Published by Manali Rastogi Published: October 22, 2019 | 8:38 am
Modified: October 22, 2019 | 8:39 am

कोलकाता: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 18 अक्टूबर को हुए हिंदू नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड के बाद अब पश्चिम बंगाल में एक भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) समर्थक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस घटना के बाद से राज्य में हड़कंप मचा हुआ है। बता दें, प्रदेश में राजनीतिक हिंसा काफी बढ़ गयी है।

यह भी पढ़ें: विधानसभा उप-चुनाव: यूपी में नहीं दिखी मतदाताओं में दिलचस्पी

मामला बीरभूम जिले का है, जहां भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एक समर्थक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। दरअसल बीरभूम जिले के नन्नूर इलाके में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और बीजेपी के बीच पिछले काफी समय से विवाद चल रहा था। इस विवाद के चलते 47 वर्षीय सनकारी बगड़ी की गोली मारकर हत्या कर दी गई।

हाटसारण्डी गांव की रहने वाली थी मृतक

मृतक बीरभूम जिले के नन्नूर पुलिस स्टेशन के तहत पड़ने वाले हाटसारण्डी गांव की रहने वाली थी। सनकारी बगड़ी के बेटे उदय बागड़ी ने अपने पड़ोसी आदित्य बागड़ी से लड़ाई की थी, जो कि बंगाल में सत्तारुढ़ टीएमसी का समर्थक था। इसी लड़ाई के कारण बम और हथियारों से लैस टीएमसी के गुंडों ने पूरे इलाके को घेर लिया।

यह भी पढ़ें: जानें क्या कहते हैं हरियाणा विधानसभा चुनाव के एग्जिट पोल

बता दें, बीजेपी और टीएमसी करकर्ताओं के बीच बहस इतनी बढ़ गयी कि दोनों गुटों के बीच लड़ाई छिड़ गयी। आलम ये हो गए कि टीएमसी के एक कार्यकर्ता ने फायरिंग कर दी। फायरिंग की वजह से सनकारी बागड़ी को गोली लगी और उनकी मौके पर ही मौत हो गयी। उनकी मौत के अलावा खूनी संघर्ष में बीजेपी के 6 कार्यकर्ता घायल भी हो गए।