WOW:आज 7रुपया बचाएं, बुढ़ापे में हजारों पाएं, जानिए निवेश की ये हैं कौन सी स्कीम?

अटल पेंशन योजना के सदस्यों की संख्या 1.9 करोड़ से अधिक हो गई है। मोदी सरकार ने सामाजिक सुरक्षा देने के उद्देश्य से यह योजना शुरू की है। इस योजना के अनुसा रोज 7 रुपये बचाकर 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 5,000 रुपये की पेंशन पाया जा सकता है।

Published by suman Published: November 6, 2019 | 3:47 pm
Modified: November 6, 2019 | 4:20 pm

जयपुर: अटल पेंशन योजना के सदस्यों की संख्या 1.9 करोड़ से अधिक हो गई है। मोदी सरकार ने सामाजिक सुरक्षा देने के उद्देश्य से यह योजना शुरू की है। इस योजना के अनुसा रोज 7 रुपये बचाकर 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 5,000 रुपये की पेंशन पाया जा सकता है।

अटल पेंशन योजना के तहत इस साल 31 अक्टूबर तक 36 लाख से ज्यादा खाते खोले गए हैं। जो 33 फीसदी की बढ़ोतरी है। एक साल पहले की इसी अवधि में वृद्धि 26 प्रतिशत थी। 27.5 लाख खाते सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, 5.5 लाख खाते क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक और करीब 3 लाख खाते निजी बैंक और भुगतान बैंक द्वारा खोले गए हैं।

यह पढ़ें…देश में कई हेक्टेयर फसल हुई बर्बाद, इसमें भी है पाकिस्तान का हाथ, जानिए कैसे?

इनका योगदान सबसे अधिक

भारतीय स्टेट बैंक (SBI) का योगदान सबसे अधिक रहा। जहां 11.5 लाख अटल पेंशन खाते जोड़े, इसके बाद कैनरा बैंक और बैंक ऑफ इंडिया का नंबर है। आंध्र प्रदेश ग्रामीण विकास बैंक ने सबसे ज्यादा अटल पेंशन खाते खोले हैं। इसके तहत 60 की उम्र से पेंशन मिलना शुरु हो जाएगा।

यह पढ़ें…बिजली घोटाले को लेकर दो आरोपियों की आज कोर्ट में पेशी, देखें तस्वीरें

18  से  40 तक की उम्र में लोग इस योजना से जुड़ सकते है। अटल पेंशन योजना के तहत सिर्फ जीते जी ही नहीं, बल्कि मौत के बाद भी परिवार को मदद मिलती रहती है। अगर 60 साल से पहले ही योजना से जुड़े किसी व्‍यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो फिर उसकी पत्नी इस योजना में पैसे जमा करना जारी रख सकती है और 60 साल के बाद हर महीने पेंशन पा सकती है।