×

पुलिस हिरासत में लिए गए AIMIM सांसद, जा रहे थे मस्जिद में नमाज अदा करने

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के सांसद इम्तियाज जलील को औरंगाबाद पुलिस ने हिरासत में लिया है। पुलिस ने एआईएमआईएम सांसद को कोविड-19 प्रतिबंधों का उल्लंघन करने पर हिरासत में लिया है।

Newstrack
Published on: 2 Sep 2020 1:22 PM GMT
पुलिस हिरासत में लिए गए AIMIM सांसद, जा रहे थे मस्जिद में नमाज अदा करने
X
सांसद इम्तियाज जलील को औरंगाबाद पुलिस ने हिरासत में लिया है। पुलिस ने एआईएमआईएम सांसद को कोविड-19 प्रतिबंधों का उल्लंघन करने पर हिरासत में लिया है।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

औरंगाबाद: असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के सांसद इम्तियाज जलील को औरंगाबाद पुलिस ने हिरासत में लिया है। पुलिस ने एआईएमआईएम सांसद को कोविड-19 प्रतिबंधों का उल्लंघन करने पर हिरासत में लिया है। वह नियमों का उल्लंघन कर एक मस्जिद में नमाज अदा करने के लिए जा रहे थे। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इस बारे में जानकारी दी है।

बता दें कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से सभी धार्मिक स्थल बंद हैं। एआईएमआईएम के स्थानीय सांसद एवं पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष ने बीते हफ्ते कहा था कि अगर प्रदेश की सरकार सभी धार्मिक स्थलों को फिर से नहीं खोलती है तो वह मस्जिद में नमाज अदा करेंगे।

सरकार की आंदोलन की धमकी

अधिकारी ने बताया कि जलील शाहगंज मस्जिद जा रहे थे तभी उनको हिरासत में लिया गया। पुलिस उनको शहर के पुलिस आयुक्त के कार्यालय ले गई है।

AIMIM MP Imtiaz Jaleel

यह भी पढ़ें...ऐसे हारेगी महामारी: घर पर रहकर दे कोरोना को मात, इतने मरीज हुए ठीक

इससे पहले जलील ने चेतवानी देते हुए कहा है कि अगर राज्य सरकार सभी धार्मिक स्थानों को खोलने में विफल रहती है तो पूरे प्रदेश में आंदोलन होंगे। पुलिस आयुक्त चिरंजीव प्रसाद ने बताया कि एआईएमआईएम सांसद को उनके कार्यालय के पास हिरासत में लिया गया।

यह भी पढ़ें...PUBG हुआ बैन: भारत सरकार का बड़ा एक्शन, 118 मोबाइल ऐप पर बैन

उन्होंने कहा कि पुलिस ने सांसद जलील को राज्य सरकार द्वारा जारी किए नए दिशानिर्देशों के बारे में जानकारी दी है। भविष्य में अगर जरूरत पड़ती है तो हम कार्रवाई करेंगे। जलील ने एलान किया कि वह खड़केश्वर मंदिर जाएंगे। इसके बाद शिवसेना और एआईएमआईएम के कार्यकर्ता आमने-सामने आ गए। जलील का कहना था कि वह अधिकारियों को ज्ञापन सौंपकर मंदिर खोलने की मांग करेंगे। पुलिस ने बताया कि प्रशासन के अनुरोध के बाद जलील वहां नहीं गए।

यह भी पढ़ें...पाकिस्तानी सुरंगों का खुलासा: सीमा पर हो रहा ये काम, ऐसे हो रहा हथियारों का व्यापार

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story