बड़ी खुशखबरी: सरकारी बैंकों ने दी ये सुविधाएं, अब घर बैठे होंगे सारे काम

बैंक से संबंध रखने वालों के लिए ये बेहद जरूरी खबर है। देश के सभी सरकारी बैंक अब अपने ग्राहकों को घर पर ही बैंकिग सुविधाएं देंगे। बैंक की इस सेवा का सबसे ज्यादा फायदा वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगों को होगा। बैंक ग्राहक अब घर बैठे ही अपने खाते में पैसा जमा कर और निकाल भी पाएंगे। 

बड़ी खुशखबरी: सरकारी बैंकों ने दी ये सुविधाएं, अब घर बैठे होंगे सारे काम

बड़ी खुशखबरी: सरकारी बैंकों ने दी ये सुविधाएं, अब घर बैठे होंगे सारे काम

नई दिल्ली : बैंक से संबंध रखने वालों के लिए ये बेहद जरूरी खबर है। देश के सभी सरकारी बैंक अब अपने ग्राहकों को घर पर ही बैंकिग सुविधाएं देंगे। बैंक की इस सेवा का सबसे ज्यादा फायदा वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांगों को होगा। बैंक ग्राहक अब घर बैठे ही अपने खाते में पैसा जमा कर और निकाल भी पाएंगे।

यह भी देखें… भीषण सड़क हादसा: पाकिस्तान का हुआ बुरा हाल, कई लोगों की हुई दर्दनाक मौत

एक ही होगा सर्विस प्रोवाइडर

रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने कुछ साल पहले ही घर पर बैंकिंग सुविधा शुरू करने की बात कही थी लेकिन अब बैंकों ने कॉमन सर्विस प्रोवाइडर के जरिए ऐसा करने की सोची है।

बता दें कि सर्विस प्रोवाइडर के पास कॉल सेंटर, वेबसाइट और एक मोबाइल एप होना चाहिए, जिसके जरिए वो इन सेवाओं को देगा। यूको बैंक ने इसके लिए सभी बैंकों की तरफ से निविदा को बुलाएगी।

बड़ी खुशखबरी: सरकारी बैंकों ने दी ये सुविधाएं, अब घर बैठे होंगे सारे काम

यह हैं सेवाएं

1. नए चेकबुक के लिए स्लिप

2. गैर व्यक्तिगत चेकबुक, ड्राफ्ट, एफडी रसीद

3. 15G, 15H फॉर्म का पिकअप

4. चेक, ड्रॉफ्ट का पिकअप

यह भी देखें… बड़ा फैसला- UPPSC : आयोग ने परीक्षा के पैटर्न में किए बदलाव

5. नगदी जमा व निकासी

6. टीडीएस, फॉर्म 16 सर्टिफिकेट

7. स्टैंडिंग इंस्ट्रक्शन जारी करना

8. खाते का स्टेटमेंट

9. आयकर विभाग का चालान

इसके साथ ही सेवा प्रदाता कंपनी अपनी तरफ से एजेंट को नियुक्त करेगी, जोकि लोगों को घर पर ये सुविधाएं उपलब्ध कराएंगे। पहले स्टेप में ये सुविधा सिर्फ वरिष्ठ नागिरकों और दिव्यांगों को मिलेगी। जिसके बाद इसे कुछ शुल्क के साथ अन्य लोगों के लिए भी शुरू किया जाएगा। बैंक पहले 3 सालों के लिए सर्विस प्रोवाइडर के साथ समझौता करेंगे, जिसको की आगे 2 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है।

बता दें, सर्विस प्रोवाइडर को सेवाएं उसी दिन देनी होगी। कट-ऑफ टाइम के बाद पंजीकरण होने वाले आवेदनों को अगले दिन के पहले हाफ तक यह काम करना होगा।

यह भी देखें… कश्मीर हाथ न लगा: तो पाकिस्तान इसकी चाह में हुआ पागल, बनाया नापाक प्लान