नए साल में सरकार को मिली बड़ी खुशखबरी, देश के लिए है राहतभरी, जानिए क्या?

नए साल की शुरुआत में अभी कुछ ही घंटे हुए है कि पहले दिन केंद्र की मोदी सरकार के लिए खुशखबरी है कि दिसंबर महीने में जीएसटी संग्रह 1.03 लाख करोड़ रुपए तक पहुंचा है। बता दें कि केंद्र सरकार को इससे पहले नवंबर महीने में भी जीएसटी से 1.03 लाख करोड़ रुपए का राजस्‍व प्राप्त हुआ है। ऐसे में यह लगातार दूसरा महीना है जब जीएसटी संग्रह एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा है।

नागालैंड के 57वां स्थापना दिवस पर PM मोदी ने दी शुभकामनाएं

PM Modi

नई दिल्ली  नए साल की शुरुआत में अभी कुछ ही घंटे हुए है कि पहले दिन केंद्र की मोदी सरकार के लिए खुशखबरी है कि दिसंबर महीने में जीएसटी संग्रह 1.03 लाख करोड़ रुपए तक पहुंचा है। बता दें कि केंद्र सरकार को इससे पहले नवंबर महीने में भी जीएसटी से 1.03 लाख करोड़ रुपए का राजस्‍व प्राप्त हुआ है। ऐसे में यह लगातार दूसरा महीना है जब जीएसटी संग्रह एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा है।

यह पढ़ें…जीआई के साथ विश्व बाजार की ओर बढ़ते शिल्पियों के कदम

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर माह में जीएसटी संग्रह 1.03 लाख करोड़ रुपये रहा। एक साल पहले इसी महीने जीएसटी संग्रह 97,276 करोड़ रुपये था जबकि पिछले महीने (नवंबर 2019) में यह आंकड़ा 1,03,492 करोड़ रुपये रहा। अगर अप्रैल से लेकर दिसंबर तक के आंकड़ों पर गौर करें तो अगस्त, सितंबर और अक्टूबर तीन ऐसे महीने रहे हैं। जब जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये के नीचे रहा है। वहीं, मौजूदा वित्त वर्ष में अप्रैल महीने के दौरान जीएसटी कलेक्शन सबसे ज्यादा 1,13,865 करोड़ रुपये रहा था।

जुलाई 2017 में जीएसटी लागू किए जाने के बाद यह 9वां ऐसा महीना है, जब जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये के लक्ष्य के पार पहुंचा है। टैक्स अधिकारियों का कहना है कि जीएसटी कलेक्शन के साथ ही 2019-20 के लिए निर्धारित प्रत्यक्ष टैक्स कलेक्शन के लक्ष्य (13.35 लाख करोड़ रुपये) को भी हासिल करना होगा। सरकार ने 2019-20 में 13.35 लाख करोड़ रुपये प्रत्यक्ष कर से जुटाने का लक्ष्य रखा है। राजस्व विभाग अगले चार महीनों में टैक्स कलेक्शन बढ़ाने के लिए ठोस कदम उठा रहा है। उन्होंने कहा कि वसूली बढ़ाने के प्रयास करने के निर्देशों के साथ-साथ अधिकारियों को यह भी कहा गया है कि इस अभियान के तहत टैक्स होल्डर को परेशानी न हो।

यह पढ़ें…छात्रा की दर्दनाक मौत: स्कूल से घर ​के लिए निकली थी, तभी.

 

इस बार दिसंबर में कुल 1,03,184 करोड़ रुपये का जीएसटी संग्रह हुआ है। इसमें केंद्रीय जीएसटी (सीजीएसटी) से वसूली 19,962 करोड़ रुपये , राज्य जीएसटी (एसजीएसटी) से वसूली 26,792 करोड़ रुपये , एकीकृत जीएसटी (आईजीएसटी) से 48,099 करोड़ रुपये और उपकर से वसूली 8,331 करोड़ रुपये रही। एकीकृत जीएसटी में 21,295 करोड़ रुपये आयात से वसूली हुई । इसी प्रकार , उपकर की वसूली में 847 करोड़ रुपये आयातित माल पर उपकर से मिले। दिसंबर महीने में घरेलू लेनदेन से होने वाले जीएसटी संग्रह में 16 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी।