छात्रा की दर्दनाक मौत: स्कूल से घर ​के लिए निकली थी, तभी..

साल के पहले ही दिन 108 एंबुलेंस की लेट लतीफी में हाईस्कूल की छात्रा की जान चली गई। गुस्साए लोगों ने रोड जामकर प्रदर्शन भी किया। अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाया-बुझाया तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ।

अमेठी: साल के पहले ही दिन 108 एंबुलेंस की लेट लतीफी में हाईस्कूल की छात्रा की जान चली गई। गुस्साए लोगों ने रोड जामकर प्रदर्शन भी किया। अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर लोगों को समझाया-बुझाया तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम में भेजकर मामले की छानबीन शुरू कर दिया है। उधर परिजनों का बेटी के वियोग में रो-रो कर बुरा हाल है।

ये भी पढ़ें:जल रहा ऑस्‍ट्रेलिया! जान बचाने के लिए भाग रहे लोग, लगाई गई सेना

अमेठी-दुर्गापुर रोड पर बघवारिया के पास की घटना

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार जीजीआईसी अमेठी की छात्रा रेखा विश्वकर्मा पुत्री राम केवल विश्वकर्मा अमेठी कोतवाली के बनवारीपुर गांव की निवासी थी। बुधवार साल के पहले दिन स्कूल से छुट्टी होने बाद साइकिल से वापस घर जा रही थी। इस बीच अमेठी-दुर्गापुर रोड पर बघवारिया के पास सामने से आ रहे तेज रफ्तार वाहन ने सामने से टक्कर मार दिया वो मुंह के बल गिर पड़ी, वाहन चालक मौके से गाड़ी लेकर भाग निकला।

स्थानीय लोगो ने रोड जाम कर किया प्रदर्शन

स्थानीय लोगो ने रेखा की जान बचाने के लिए 108 एंबुलेंस को फोन किया। सूचना देने के बाद आधे घंटे तक एंबुलेंस मौके पर नहीं पहुंची। नतीजा ये हुआ के छात्रा ने सड़क पर ही तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया। इस बात से नाराज लोगों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। सूचना पर छात्रा के परिजन भी मौके पर पहुंच पहुंच गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों को समझा बुझाकर जाम खुलवाया और शव का पंचनामा कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। घटना की सूचना पाकर स्कूल की प्राचार्या डॉ फूलकली गुप्ता भी मौके पर पहुंची और परिजनों को ढांढस बंधाया।

ये भी पढ़ें:चार तख्त और सुरंग! एक साथ लटकाए जाएंगे निर्भया के चारों दरिंदे