Bird Flu का कहर: इस राज्य में भी बीमारी ने दी दस्तक, जारी हुआ अलर्ट

जांच में पांचों सैंपल एच-5 एन-8 एविएन इनफ्लुएंजा वायरस यानी बर्ड फ्लू से ग्रसित पाए गए। सैंपल की ट्रेकियल स्वाब एवं क्लोकल स्वाब की रिपोर्ट भी पाॅजिटिव पायी गई है। इसको लेकर राज्य के सभी जिलों को हाई अलर्ट कर दिया गया है।

Published by Ashiki Patel Published: January 15, 2021 | 8:32 am
bird flu

(फोटो- सोशल मीडिया)

रायपुर: देश से कोरोना महामारी ठीक से गयी भी नहीं कि एक नई बीमारी ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है। भारत के 10 राज्यों में कंफर्म पुष्टि के बाद अब बर्ड फ्लू ने छत्तीसगढ़ में भी दस्तक दे दी है। छत्तीसगढ़ राज्य में भी बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। राज्य का पहला केस बालोद जिले से सामने आया है। बर्ड फ्लू की पुष्टि सरकार की ओर से कर दी गयी है और साथ ही अलर्ट जारी कर दिया गया है।

गुरुवार शाम हुई संक्रमण की पुष्टि

छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से जारी जानकारी के अनुसार राज्य के बालोद जिले से जांच के लिए भेजे गए चिकन सैंपल की रिपोर्ट पाॅजिटिव आई है। राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान भोपाल की ओर से गुरुवार शाम मिली रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि हुई है। राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान ने इसकी सूचना छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्य सचिव सहित संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं को दी है। बता दें कि राज्य में बर्ड-फ्लू का यह पहला मामला है जो बालोद जिले से सामने आया है।

BIRD FLU

ये भी पढ़ें: तेजस की एयर स्ट्राइक! पाकिस्तान पर हमला करने में सक्षम, वायुसेना प्रमुख का दावा

राज्य के सभी जिलों में हाई अलर्ट

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ के बालोद जिला के एक पोल्ट्री फार्म से चिकन के 5 सैंपल 11 जनवरी को जांच के लिए भोपाल के राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान भेजे गए थे। यहां जांच में पांचों सैंपल एच-5 एन-8 एविएन इनफ्लुएंजा वायरस यानी बर्ड फ्लू से ग्रसित पाए गए। सैंपल की ट्रेकियल स्वाब एवं क्लोकल स्वाब की रिपोर्ट भी पाॅजिटिव पायी गई है। इसको लेकर राज्य के सभी जिलों को हाई अलर्ट कर दिया गया है।

Bird Flu

सरकार ने जारी किया अलर्ट

सरकार द्वारा दिए गए निर्देश के मुताबिक संक्रमित फार्म से एक किलोमीटर परिधि क्षेत्र को संक्रमित क्षेत्र घोषित कर रैपिड रिस्पांस टीम द्वारा आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। साथ ही संक्रमित क्षेत्र में पक्षियों का आवागमन पूरी तरीके से प्रतिबंधित किया जा रहा है। इसके अलावा आम लोगों और वाहनों के आवागमन को भी सीमित करने की कार्रवाई की जा रही है। इतना ही नहीं बालोद के पोल्ट्री फार्म के एक किलोमीटर से 10 किलोमीटर परिधि क्षेत्र को निगरानी क्षेत्र घोषित किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें: जल रहा कोलकाता! आग की लपटों से घिरा, दमकलकर्मियों का लगा जमावड़ा

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App