×

अभी-अभी दिग्गज BJP नेता की गोली मारकर हत्या, पार्टी में शोक की लहर

हरियाणा के गुरुग्राम में बीजेपी की एक महिला नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। हत्या का आरोप पति पर लगा है। वारदात को अंजाम देने के बाद हत्यारोपी पति फरार है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 9 Feb 2020 2:40 PM GMT

अभी-अभी दिग्गज BJP नेता की गोली मारकर हत्या, पार्टी में शोक की लहर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: हरियाणा के गुरुग्राम में बीजेपी की एक महिला नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। हत्या का आरोप पति पर लगा है। वारदात को अंजाम देने के बाद हत्यारोपी पति फरार है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

मृतका मुनेश भाजपा किसान मोर्चा की पदाधिकारी थीं। जानकारी के मुताबिक मुनेश गोदारा भाजपा महिला मोर्चा में कई पदों पर रह चुकी थीं। वह फिलहाल पार्टी के किसान मोर्चा में महामंत्री के पद पर थीं। मुनेश के राजनीति में सक्रिय होने के कारण अक्सर बाहर जाना और लोगों से मिलना-जुलना होता रहता था।

पति सुनील गोदारा को बस यही बात पसंद नहीं थी। पति सुनील को उसके चरित्र पर भी शक था। वह घर आया तो मुनेश अपनी बहन से वीडियो कॉल पर बात कर रही थी। वह पत्नी को किसी से वीडियो कॉल पर बात करते देख आपे से बाहर हो गया।

यह भी पढ़ें...दिल्ली चुनाव में 62.59% मतदान, EC ने बताया- आंकड़े बताने में क्यों हुई देरी

पति सुनील और मुनेश के बीच बहस शुरू हो गई। इस बीच सुनील ने अपनी लाइसेंसी रिवॉल्वर निकाली और एक के बाद एक दो गोलियां पत्नी मुनेश पर दाग दीं। दोनों गोलियां मुनेश को सीने में लगीं, जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई।

यह भी पढ़ें...अब इस नाम से जाना जाएगा कोरोना वायरस, जानिए क्यों बदला

परिवार के लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी और मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। मुनेश ने दम तोड़ दिया था और आरोपी पति मौके से फरार हो गया था। कहा जा रहा है कि घटना के वक्त आरोपी पति सुनील गोदारा शराब के नशे में धुत था।

मुनेश के भाई का आरोप है कि सुनील उसकी बहन को शादी के बाद से ही मानसिक रूप से परेशान करता था। दोनों की शादी साल 2001 में हुई थी। वह सेना से रिटायर होने के बाद एक सुरक्षा एजेंसी में पीएसओ के तौर पर कार्यरत था।

यह भी पढ़ें...बस्ती का नाम बदलने की तैयारी में योगी सरकार, जानिए क्या होगा नया नाम

भाई ने बताया कि मुनेश अपनी सहेली के कहने पर साल 2013 में बीजेपी से जुड़ी थी। वह महिला मोर्चा में भी कई पदों पर रहीं। भाई ने आरोप लगाया कि वह घर भी बात करती थी, तो पति हंगामा करता था। मुनेश के परिजनों की तहरीर पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story