ममता के खिलाफ BJP का मेगा प्लान, राज्य की सभी सीटों पर रथयात्राएं निकालेगी पार्टी

पार्टी से जुड़े जानकार सूत्रों का कहना है कि दिल्ली में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की बैठक में यह बड़ा फैसला किया गया है। राज्य विधानसभा की 294 सीटों के लिए चुनाव मार्च-अप्रैल में संभावित हैं

Published by Roshni Khan Published: January 17, 2021 | 11:23 am
west-bengal

ममता के खिलाफ BJP का मेगा प्लान, राज्य की सभी सीटों पर रथयात्राएं निकालेगी पार्टी (PC: social media)

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल में बड़ी ताकत बनकर उभर रही भारतीय जनता पार्टी ने इस बार के विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को सत्ता से बेदखल करने के लिए मेगा प्लान तैयार किया है। पार्टी राज्य के सभी विधानसभा सीटों के मतदाताओं तक अपनी सीधी पहुंच बनाने की कोशिश में जुट गई है।

अपनी इस योजना को पूरा करने के लिए पार्टी ने राज्य में पांच रथयात्राएं निकालने का फैसला किया है। इन पांच रथयात्राओं के जरिए राज्य की सभी 294 विधानसभा सीटों को कवर किया जाएगा। पार्टी इस बार राज्य में सत्ता बदलने की कोशिश में जुटी हुई है और इन रथयात्राओं के जरिए राज्य के लोगों को बदलाव का संदेश दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें:LIVE- Statue Of Unity जुड़ा रेल नेटवर्क से, PM मोदी ने 8 ट्रेनों को दिखाई हरी झंड़ी

फरवरी में होगी रथयात्राओं की शुरुआत

पार्टी से जुड़े जानकार सूत्रों का कहना है कि दिल्ली में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की बैठक में यह बड़ा फैसला किया गया है। राज्य विधानसभा की 294 सीटों के लिए चुनाव मार्च-अप्रैल में संभावित हैं और ऐसे में रथयात्राओं की शुरुआत फरवरी से ही कर दी जाएगी ताकि सभी विधानसभा सीटों को कवर किया जा सके।

फैसला वरिष्ठ नेताओं की बैठक में हुआ

दिल्ली में हुई भाजपा नेताओं की महत्वपूर्ण बैठक में केंद्रीय मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने भी हिस्सा लिया।

पार्टी की रणनीति तय करने के लिए इस बैठक में पश्चिम बंगाल भाजपा के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय, शिवप्रकाश, राज्य भाजपा के अध्यक्ष दिलीप घोष सहित अन्य वरिष्ठ नेताओं ने भी हिस्सा लिया।

सभी विधानसभा सीटों पर घूमेंगीं रथयात्राएं

बैठक में हिस्सा लेने वाले भाजपा के एक नेता ने बताया कि रथयात्राओं की शुरुआत फरवरी महीने से की जाएगी और उसके जरिए राज्य की सभी 294 सीटों पर मतदाताओं को पहुंच बनाने की योजना है।

उन्होंने कहा कि रथयात्रा का नेतृत्व पार्टी के वरिष्ठ नेता करेंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी की ओर से यह योजना तैयार की गई है कि यात्रा शुरू करने वाला नेता पूरे हफ्ते यात्रा से जुड़ा रहे। उन्होंने बताया कि जल्द ही रथयात्रा के रूट और और इससे जुड़े महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।

mamata-banerjee
mamata-banerjee (PC: social media)

भाजपा की चाल से ममता सतर्क

भाजपा से जुड़े सूत्रों का कहना है कि पार्टी इन कदमों के जरिए राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के नेताओं को तोड़ने की कोशिश करेगी। तृणमूल कांग्रेस के कई नेता इन दिनों मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से नाराज चल रहे हैं और भाजपा की नजर ऐसे नेताओं पर टिकी हुई है। भाजपा की इन कोशिशों के चलते ममता बनर्जी भी इन दिनों सतर्क हो गई हैं और अपना दुर्गे संभालने की कोशिश में जुटी हुई हैं।

पश्चिम बंगाल भाजपा के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने भी हाल में कहा था कि तृणमूल कांग्रेस के 41 विधायक भाजपा के संपर्क में है और पार्टी चाहे तो ममता की सरकार किसी भी समय गिराई जा सकती है।

राज्य के नेताओं को सतर्कता के निर्देश

वैसे भाजपा तृणमूल कांग्रेस के ऐसे नेताओं को लेकर भी सतर्क है जिनका बैकग्राउंड अच्छा नहीं रहा है। केंद्रीय नेतृत्व ने राज्य इकाई के नेताओं को स्पष्ट तौर पर निर्देश दिया है कि पार्टी में तृणमूल के ऐसे नेताओं को भी शामिल किया जाना चाहिए जिनका बैकग्राउंड दागी न हो।
इसके साथ ही पार्टी में शामिल करने से पहले उसके असर की भी ठीक ढंग से जांच पड़ताल की जानी चाहिए।

अब हर माह दो बार दौरा करेंगे शाह व नड्डा

पार्टी से जुड़े सूत्रों के मुताबिक बैठक में इस बात पर भी चर्चा हुई कि अब चुनाव तक केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और अध्यक्ष जेपी नड्डा हर महीने कम से कम दो बार पश्चिम बंगाल का दौरा करेंगे। अपने दौरे के दौरान दोनों नेता पार्टी कैडर के साथ बैठक के अलावा चुनावी रैलियों को भी संबोधित करेंगे।

ये भी पढ़ें:अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में दो महिला जजों को गोली मारकर हत्या

नड्डा ने हाल ही में पश्चिम बंगाल का दौरा किया था

नड्डा ने हाल ही में पश्चिम बंगाल का दौरा किया था जबकि अमित शाह 30 और 31 जनवरी को पार्टी के विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के लिए बंगाल पहुंचने वाले हैं। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी रैलियों को लेकर भी चर्चा की गई। बैठक में इस बात पर सहमति बनी कि पीएम मोदी की रैलियों का आयोजन चुनाव तारीखों के एलान के बाद ही किया जाएगा।

रिपोर्ट- अंशुमान तिवारी

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App