अभी लिया बड़ा फैसला: BJP नहीं चाहती रिस्क, MLA’S को भोपाल से कर दिया शिफ्ट

मध्य प्रदेश का राजनीतिक घटनाक्रम पिछले 24 घंटों में तेजी से बदला है। ज्योतिरादित्य सिंधिया के राजनीतिक रंग बदल गए हैं।  सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया है और अब वो बीजेपी का दामन थामेंगे। सिंधिया के इस्तीफे के बाद 22 कांग्रेस विधायकों ने भी पार्टी से किनारा कर लिया है।

Published by suman Published: March 10, 2020 | 10:35 pm

भोपाल: मध्य प्रदेश का राजनीतिक घटनाक्रम पिछले 24 घंटों में तेजी से बदला है। ज्योतिरादित्य सिंधिया के राजनीतिक रंग बदल गए हैं।  सिंधिया ने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया है और अब वो बीजेपी का दामन थामेंगे। सिंधिया के इस्तीफे के बाद 22 कांग्रेस विधायकों ने भी पार्टी से किनारा कर लिया है। एक तरफ जहां कमलनाथ सरकार पर खतरा मंडरा रहा है तो वहीं बीजेपी सरकार बनाने के लिए कदम आगे बढ़ाती दिख रही है।

यह पढ़ें… सिंधिया नहीं माने तो कमलनाथ सरकार गई, शिवराज होंगे मुख्यमंत्री

इस बीच खबर आ रही है कि मध्य प्रदेश बीजेपी के विधायकों को बाहर भेजा जा रहा है।  खबरों के हवाले से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सभी विधायकों को दिल्ली, गुजरात या हरियाणा शिफ्ट किया जाएगा। मध्य प्रदेश के बीजेपी विधायकों को लेकर दो बसें मंगलवार रात करीब 9.30 बजे रवाना हुई हैं। हालांकि, बीजेपी विधायकों का कहना है कि वो होली मनाने जा रहे हैं।

यह पढ़ें…इतिहास दोहराया तो इस बार जाएगी मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार

एक विधायक ने कहा कि वो राज्यसभा चुनाव के मद्देनज़र जा रहे हैं, जबकि बाकी सभी विधायक होली मनाने का बहाना बनाते दिखाई दिए। बात दें कि कमलनाथ को राजनीति का माहिर खिलाड़ी माना जाता है, ऐसे में कहीं कोई उलटफेर न हो जाए, इस बात की शंका भी बीजेपी विधायकों को शिफ्ट करने की वजह हो सकती है।

बता दें कि इधर सीएम कमलनाथ ने कहा है कि एमपी सरकार नहीं गिरेगी। सरकार के पास पूरा बहुमत है। इस बात को बीजेपी ने शायद गंभीरता से लिया है।और भोपाल से विधायकों को दूसरे जगह शिफ्ट कर दिया है।