भारत में भी बोइंग 737 मैक्स विमानों पर प्रतिबंध, इथोपिया हादसे से पूरी दुनिया में इसका खौफ

इथोपिया में बोइंग 737 मैक्स विमान हादसे के बाद अब मंगलवार देर रात भारत में भी तत्काल प्रभाव से बोइंग 737 मैक्स-8 के विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी गई है।कई देशों ने अपने यहां इन विमानों पर बैन लगा दिया है।

Published by Anoop Ojha Published: March 13, 2019 | 10:21 am

भारत में भी बोइंग 737 मैक्स विमानों पर प्रतिबंध, इथोपिया हादसे से पूरी दुनिया में इसका खौफ

नई दिल्ली: इथोपिया में बोइंग 737 मैक्स विमान हादसे के बाद अब मंगलवार देर रात भारत में भी तत्काल प्रभाव से बोइंग 737 मैक्स-8 के विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी गई है।कई देशों ने अपने यहां इन विमानों पर बैन लगा दिया है। इन देशों में भारत के साथ-साथ ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, आस्ट्रेलिया, सिंगापुर, मलेशिया, आयरलैंड, आइसलैंड, ओमान, चीन, इंडोनेशिया, दक्षिण कोरिया और अर्जेंटीना भी शामिल हो गए हैं।

इथोपियन एयरलाइंस विमान हादसे में मारे गए लोगों में पर्यावरण मंत्रालय से सम्बद्ध यूएनडीपी की एक सलाहकार सहित चार भारतीय शामिल हैं। यूएनडीपी की सलाहकार शिखा गर्ग, जिनकी रविवार को इथियोपिया में विमान दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी, चौथी संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण सभा के लिए जा रही थीं।

यह भी पढ़ें…..इथोपिया विमान हादसा : बोईंग 737 मैक्स 8, चीन ने व्यावसायिक इस्तेमाल किया बंद

मिनिस्ट्री ऑफ सिविल एविएशन ने कहा है कि जब तक इस विमान की सुरक्षा संबंधी जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक इसकी उड़ान पर रोक कायम रहेगी। यात्रियों की सुरक्षा सर्वोपरि हैं। DGCA ने कहा है कि वे संबंधित एयरलाइंस और एजेंसियों से लगातार बात कर रहे हैं।उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने सभी एयरलाइंसों की आपात बैठक बुलाई है। इसमें यात्रियों को परेशानी से बचाने के लिए चर्चा होगी।

यह भी पढ़ें…..इथोपिया विमान हादसे के बाद चीन और भारत में कई बोइंग विमान रोके गए

इथोपिया के अदीस अबाबा में रविवार सुबह बोइंग का 737 मैक्स-8 विमान दुर्घटना का शिकार हो गया था। इस हादसे में विमान में सवार सभी 157 लोगों की मौत हो गई थी। इससे पहले अक्टूबर 2018 में इंडोनेशिया में भी बोइंग का यही विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ था, जिसमें 189 यात्रियों की मौत हो गई थी।

यह भी पढ़ें…..विमान हादसा: मृतकों में UNDP की सलाहकार शिखा गर्ग समेत तीन भारतीय भी

वहीं विमान कंपनी बोइंग ने बयान जारी कर कहा है कि विमान की सुरक्षा उनकी सबसे पहले प्राथमिकता है। कंपनी ने विमान को सुरक्षित बताया है। कंपनी ने सभी एजेंसियों से उन पर भरोसा बनाए रखने की अपील की है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App