धमाके से हिले लोग: अधिकारियों को बनाया निशाना, इलाके में मची भगदड़

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले से बड़ी खबर आ रही है। जिले में नक्सलियों द्वारा लगाए गए एक आईईडी बम में धमाका होने से जिला रिजर्व गार्ड (डीआरजी) के दो अधिकारी गंभीर रूप से घायल हो गए।

दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले से बड़ी खबर आ रही है। जिले में नक्सलियों द्वारा लगाए गए एक आईईडी बम में धमाका होने से जिला रिजर्व गार्ड (डीआरजी) के दो अधिकारी गंभीर रूप से घायल हो गए। ये घटना सोमवार को सुबह करीब 10.30 बजे तब हुई थी। इस समय जब डीआरजी का एक दल एक माओवादी शिविर को नष्ट करके बेस पर वापस आ रहा था। स्थानीय पुलिस ने बताया कि यह घटना केतकल्याण पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आने वाले जंगल में हुई है।

ये भी पढ़ें… एमपी राज्यपाल लालजी टंडन की हालत नाजुक लेकिन नियंत्रण में है: मेदांता अस्पताल

रविवार की रात अभियान की शुरुआत

जानकारी देते हुए एक स्थानीय सीनियर अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों को इस ऑपरेशन में दो जगहों से छह आईईडी मिले हैं। आगे अधिकारी ने कहा, मरजुम गांव के पास जंगल में नक्सल शिविर की सूचना मिलने पर डीआरजी के एक दल ने रविवार की रात अभियान की शुरुआत की थी।

ये भी पढ़ें…सुशांत की आखिरी फिल्म: ट्रेलर ने मचाया धमाल, इस दिन देख पाएंगे आप

पांच-पांच किलो के तीन आईईडी

जब सोमवार सुबह दल वहां पहुंचा तो पाया कि नक्सली तो वहां से जा चुके थे लेकिन वह वहां पांच-पांच किलो के तीन आईईडी छोड़ गए थे। इस पर अधिकारी ने आगे बताया, इसके बाद वापसी में कलेपल में उन्हें तीन और आईईडी मिले, जिनका वजन दो-दो किलो था।

साथ ही इस बीच दो अधिकारी एक प्रेशर आईईडी के संपर्क में आ गए, जिससे उसमें धमाका हो गया। इस हादसे में दोनों को मामूली चोट आई हैं। अधिकारी ने बताया कि बाकी बची सभी आईईडी को बॉम्ब डिटेक्शन और डिस्पोजल स्क्वॉयड (बम निरोधक दस्ता) ने निष्क्रिय कर दिया है। फिलहाल इलाके में छानबीन जारी है।

ये भी पढ़ें…राशन पर बड़ा ऐलान: नहीं भटकना होगा इधर-उधर, सरकार ने दी ये सुविधा

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।