CAA के सारे सवालों के जवाब देबी BJP, जेपी नड्डा आज शुरू करेंगे जन जागरण

सभी विपक्षी दल नागरिकता संशोधन कानून का लगातार विरोध कर रहे हैं। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान देश के कई हिस्सों में हिंसा भी देखने को मिली थी, जिसमें कई लोगों की मौत भी हो चुकी है।

Published by Shivakant Shukla Published: January 2, 2020 | 10:13 am

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) पर बवाल अब थमता दिखाई दे रहा है, वहीं अब बीजेपी इसकी जागरूकता के लिए बड़े पैमाने पर जोर शोर से लग चुकी है। लेकिन केरल विधानसभा सीएए के खिलाफ प्रस्ताव पास कर चुकी है, इसके साथ ही कई गैर-बीजेपी शासित सूबे भी इसके खिलाफ कमर कस चुके हैं।

इसी क्रम में बीजेपी आज से जन जागरण अभियान कार्यक्रम की शुरूआत करने जा रही है। शाम 6 बजे बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे. पी. नड्डा वडोदरा के स्वामी नारायण मंदिर ग्राउंड में जन जागरण अभियान के कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देशभर में बीजेपी का मेगा अभियान 20 दिनों तक चलेगा।

ये भी पढ़ें—बड़ी खबर: कोटा में 100 बच्चों की मौत, बढ़ता जा रहा आंकड़ा

इसके तहत बीजेपी घर-घर जाकर नागरिकता कानून पर लोगों से बात करेगी। देशभर में एक हजार रैलियों का कार्यक्रम है। 250 प्रेस कॉन्फ्रेंस की जाएगी। हर जिले में रैलियां और बुद्धिजीवियों के लिए सम्मेलन होंगे। पंचायत और वार्ड स्तर पर बैठकें होगीं। बीजेपी के नेता लोगों के बीच जाकर कानून पर बात करेंगे और उनके सवालों व संशयों का जवाब देंगे।

JP Nadda

अमित शाह की रणनीति

जानकारी के अनुसार इस अभियान के पीछे बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की रणनीति काम कर रही है। बुधवार शाम ही बीजेपी दफ्तर पर अमित शाह ने जे. पी. नड्डा, भूपेंद्र यादव और बी. एल. संतोष के साथ बैठक की थी। इस बैठक में बीजेपी की ओर नागरिकता संशोधन कानून पर चलाए जा रहे कार्यक्रमों की बात हुई थी।

बताते चलें कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर बीजेपी कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती है। लिहाजा बीजेपी के दिग्गज नेताओं के अलावा कई क्षेत्रों की मशहूर हस्तियों को भी बीजेपी अपने अभियान का चेहरा बनाएगी। ध्यान रहे कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर उत्तर प्रदेश, असम और दिल्ली समेत कई अन्य राज्यों में विरोध प्रदर्शन हो रहा है।

ये भी पढ़ें—केेंद्र सरकार के इस फैसले से ममता सरकार को लगा करारा झटका

सभी विपक्षी दल नागरिकता संशोधन कानून का लगातार विरोध कर रहे हैं। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान देश के कई हिस्सों में हिंसा भी देखने को मिली थी, जिसमें कई लोगों की मौत भी हो चुकी है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App