×

CAA हिंसा पर प्रियंका गांधी ने कहा- एनआरसी गरीब विरोधी है

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देश के कई हिस्सों में हो रहे प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। शुक्रवार को यूपी के कई जिलों में प्रदर्शनकारी हिंसा पर उतर आए। प्रदशर्नकारियों ने पुलिस पर जमकर पत्थरबाजी की यहां तक कि फिरोजाबाद में पुलिस की गाड़ियों को फूंक दी।

Dharmendra kumar
Updated on: 20 Dec 2019 4:13 AM GMT
CAA हिंसा पर प्रियंका गांधी ने कहा- एनआरसी गरीब विरोधी है
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ देश के कई हिस्सों में हो रहे प्रदर्शन थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। शुक्रवार को यूपी के कई जिलों में प्रदर्शनकारी हिंसा पर उतर आए। प्रदशर्नकारियों ने पुलिस पर जमकर पत्थरबाजी की यहां तक कि फिरोजाबाद में पुलिस की गाड़ियों को फूंक दी। उपद्रवियों को काबू करने के लिए पुलिस ने कई जगहों लाठीचार्ज भी किया। तो वहीं दिल्ली के जामा मस्जिद, सीलमपुर और जामियानगर में भी प्रदर्शन देखने को मिला।

LIVE Updates...

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि- एनआरसी गरीब विरोधी है

इंडिया गेट पर प्रदर्शनकारियों में शामिल हुईं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि एनआरसी गरीब विरोधी है। प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि CitizenshipAct और NRC गरीबों के खिलाफ है। गरीब वे इससे सबसे अधिक प्रभावित होंगे। सरकार चाहती है कि प्रत्येक भारतीय नागरिकता साबित करने के लिए कतार में खड़ा हो, जैसा कि नोट बंदी के बाद हुआ था दिहाड़ी मजदूर क्या करेंगे?

देश के लोगों और संविधान के हक में खड़ी है कांग्रेस पार्टी: सोनिया गांधी

नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ देशभर में हो रहे प्रदर्शन के बीच कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि सरकार लोगों की आवाज को दबा रही है। लोकतंत्र में जनता की आवाज दबाना गलत है। लोगों की आवाज सुनना सरकार की जिम्मेदारी है। सोनिया गांधी ने कहा कि बीजेपी सरकार की नीतियां देशविरोधी हैं। कांग्रेस देश के लोगों और संविधान के हक में खड़ी है।

बिजनौर में एक प्रदर्शनकारी की मौत

यूपी के बिजनौर के नहटौर में प्रदर्शन के दौरान फायरिंग में चार लोग गंभीर घायल, एक की मौत हो गई और 8 पुलिस वाले भी 8 घायल हैं।

मेरठ: प्रदर्शनकारियों ने पुलिस चौकी को किया आग के हवाले

यूपी के मेरठ जिले में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस की इस्लामाबाद चौकी को आग लगा दी है। इसके साथ ही कई गाड़ियों में तोड़फोड़ भी की गई है। एसएसपी और डीएम मौके पर मौजूद हैं।

दिल्ली में उपद्रवियों ने गाड़ियों में लगाई आग

दिल्ली के दरियागंज इलाके में प्रदर्शन के दौरान लोग उपद्रव पर उतर आए। जिसके बाद उपद्रवियों ने गाड़ियों में लगाई आग। इस दौरान पुलिसकर्मियों पर भीड़ ने पथराव भी किया।

रविशंकर प्रसाद ने कहा- इस कानून का एनआरसी से कोई लेना-देना नहीं

नागरिकता संशोधन बिल का समर्थन करने के लिए बड़ी संख्या में आज बीजेपी के कार्यकर्ता जयपुर की सड़कों पर निकले और मुख्यमंत्री निवास के बाहर सिविल लाइंस फाटक पर धरना दिया। इस धरने पर बोलते हुए कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि पाकिस्तान में हिंदुओं पर अत्याचार हो रहा है जिसकी वजह से हिंदू भारत आ रहे हैं सबसे ज्यादा शरणार्थी राजस्थान में आए हैं इसलिए हम जोधपुर के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को चेतावनी देते हैं कि वह इस कानून का विरोध नहीं करें।

फिरोजाबाद में हिंसक प्रदर्शन, 4 पुलिसकर्मी और 8 अन्य घायल

यूपी के फिरोजाबाद में नागरिकता कानून के खिलाफ भड़के हिंसक प्रदर्शन में 4 पुलिसकर्मी और 8 अन्य घायल हुए हैं। एक घायल की हालत गंभीर बताई जा रही है जिस वजह से उसे बेहतर इलाज के लिए आगरा रेफर कर दिया गया है। प्रदर्शन के दौरान 7 बाइकें और 1 पुलिस पोस्ट को आग लगाई गई।

दिल्ली: जामिया में विरोध प्रदर्शन खत्म करने की अपील

जामिया में विरोध प्रदर्शन की अनुमति सिर्फ शाम 5 बजे तक के लिए दी गई थी। इस वजह से छात्र अपील कर रहे हैं सभी लोग शांतिपूर्वक वापस चले जाएं और कल फिर प्रदर्शन करने के लिए वापस आएं।

इस कानून को खारिज कर दीजिए

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कहा कि अगर नागरिकता संशोधन कानून इतना ही अच्छा है तो प्रधानमंत्री जी आपने इसके लिए वोट क्यों नहीं डाला? आप 2 दिन संसद नहीं आए, जब आपने वोट नहीं डाला तो मुझे लगा कि आप भी इस के पक्ष में नहीं हैं। आप इस कानून को खारिज कर दीजिए।

भोपाल में विरोध प्रदर्शन

मध्य प्रदेश की भोपाल में जुमे की नमाज के बाद इकबाल मैदान पर लोग एकत्र हुए और विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। मौके पर भारी पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं और पूरे शहर में धारा 144 लागू है। मध्य प्रदेश के भोपाल और जबलपुर में भीड़ ने पुलिस पर पत्थरबाजी की है।

डीएसपी हुए चोटिल

दिल्ली के सीलमपुर इलाके में नागरिकता कानून को लेकर एक बार फिर विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहा है। सीलमपुर में उपद्रवियों ने पुलिस पर पत्थरबाजी की है जिसमें डीएसपी को चोटे आई हैं।

फिरोजाबाद और बुलंदशहर में गाड़ियां फूंकी

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर और फिरोजाबाद में उपद्रवियों ने पुलिस की गाड़ियों को फूंक दिया है।

दिल्ली में सात मेट्रो स्टेशन बंद

दिल्ली में इस वक्त तीन जगह जामा मस्जिद, सीलमपुर और जामिया नगर में प्रदर्शन चल रहा है। प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली के कुल सात मेट्रो स्टेशन बंद कर दिए गए हैं। दिल्ली के बंद मेट्रो स्टेशन में चावड़ी बाजार, लाल किला, जामा मस्जिद, दिल्ली गेट, जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, जामिया मिल्लिया इस्लामिया शामिल है। इन सभी स्टेशनों के सभी गेट बंद कर दिए हैं और यहां मेट्रो रुक नहीं रही।

पुलिस को चकमा देकर चंद्रशेखर भागे

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ जामा मस्जिद में विरोध प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद को हिरासत में लेने की कोशिश की। लेकिन आजाद को उनके समर्थकों ने मौके से भगा दिया।

यूपी के कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन

नागरिकता कानून के खिलाफ उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हिंसक प्रदर्शन हो रहा है। गोरखपुर, हापुड़, बहराइच, कानपुर, फिरोजाबाद, मुजफ्फरनगर, हाथरस, सीतापुर, बुलंदशहर, मुरादाबाद, एटा, फैजाबाद में हिंसा हुई है। यहां उपद्रवियों ने पुलिस पर पथराव किया है। फिरोजबाद में उपद्रवियों ने पुलिस की गाड़ियां फूंक दी है।

कानपुर में पुलिस ने किया लाठीचार्ज

यूपी के कानपुर में नागरिकता सशोधन कानून के खिलाफ परेड चौराहे पर प्रदर्शन कर रही भीड़ अचानक हिंसक हो गई। बेकाबू भीड़ ने पुलिस पर पत्थरबाजी शुरू कर दिया। जिसके बाद पुलिस ने काबू पाने के लिए लाठीचार्ज किया। कानपुर के बाबूपुरावा, मछरिया सहित कई क्षेत्रों में लोग प्रदर्शन करने के लिए सड़कों पर उतरे थे।

UP के फिरोजाबाद और मुजफ्फरनगर में पत्थरबाजी

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में शुक्रवार को नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन हुआ। यहां पर प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पत्थर फेके हैं। इसके जवाब में पुलिस की ओर से आंसू गैस के गोले दागे। फिरोजाबाद के अलावा यूपी के मुजफ्फरनगर में भी पत्थरबाजी हुई। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज भी किया है।

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में भी नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन हो रहा है। यहा पर लोगों सड़कों बैनर के लकर नारेबाजी कर रहे हैं। ऐसे में पुलिस की ओर से सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

हैदराबाद में भी प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतर आए हैं और नारेबाजी कर रहे हैं। चारमिनार के पास नामज के बाद भीड़ इकट्ठा हुई है।

दिल्ली के जामा मस्जिद के अलावा सीलमपुर में भी विरोध प्रदर्शन हो रहा है। जामा मस्जिद के बाहर मुस्लिम समुदाय के लोग नागरिका कानून के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। इस दौरान यहां पर भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर भी रहे और नारेबाजी की। चंद्रशेखर ने यहां पर संविधान की तस्वीर लहराई हैं।

सरकार ने दिया बयान

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि नागरिकता कानून को लेकर कई लोग कन्फ्यूजन फैला रहे हैं, ये बिल सिर्फ घुसपैठियों के खिलाफ है। इस बिल से किसी की नागरिकता नहीं छीनेगी, बल्कि कुछ शरणार्थियों को नागरिकता दी जाएगी। कुछ लोग इस बिल का विरोध करते हुए पाकिस्तान की भाषा बोल रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार आम लोगों तक पहुंच रही है और अफवाहों से बचने के लिए कह रही है। ममता बनर्जी ने जो बयान दिया है वह गलत है, भारत की जनता ने सरकार को चुना, सरकार ने फैसला लिया ऐसे में यूएन कौन होता है हमारे फैसले पर रेफरेंडम करने वाला।

महिला कांग्रेस की कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया

दिल्ली महिला कांग्रेस की कार्यकर्ता प्रदर्शन कर रही हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के घर के बाहर प्रदर्शन कर रही कई महिला कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया है।

दिल्ली के तीन मेट्रो स्टेशन बंद

राजधानी दिल्ली में चावड़ी बाजार, लालकिला, जामा मस्जिद मेट्रो स्टेशनों को शुक्रवार को बंद कर दिया गया है। यहां नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के चलते ये एक्शन लिया गया है।

21 दिसंबर को बिहार बंद करेगी आरजेडी

तेजस्वी यादव ने बिहार बंद का ऐलान किया है। राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव कहा है कि उनकी पार्टी 21 दिसंबर को बिहार बंद करेगी। ये विरोध नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ है।

दिल्ली के जामिया इलाके में धारा 144 नहीं

दिल्ली के जामिया में धारा 144 नहीं लगाई गई है। शुक्रवार को जुम्मे की नमाज़ है, यही कारण है कि प्रदर्शनकारियों को इकट्ठा नहीं होने दिया जाएगा। पुलिस को देखकर लोग न भड़के, इसलिए पुलिस दूर ही रहेगी। दिल्ली के सभी मेट्रो स्टेशनों को खोल दिया गया है।

उत्तर पूर्व दिल्ली क्षेत्र में दिल्ली पुलिस 5 ड्रोन कैमरे से नजर बनाए हुए हैं, धारा 144 सिर्फ 14 में से 12 क्षेत्रों में लगाई गई है। पुलिस कुछ इलाके में मार्च कर रही है और सोशल मीडिया अकाउंट पर नजर है।

यूपी पुलिस की बड़ी कार्रवाई

गुरुवार को लखनऊ में हुई हिंसा में पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की है, अभी तक 150 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जबकि 19 FIR दर्ज की गई हैं। उत्तर प्रदेश के संभल में भी 17 ज्ञात, 250 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस रजिस्टर किया गया है।

भीम आर्मी को नहीं दी इजाज

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को जामा मस्जिद से जंतरमंतर तक मार्च निकालने की इजाजत नहीं दी गई है। भीम आर्मी शुक्रवार को नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ मार्च निकालने जा रही है।

वकील के शव का पोस्टमार्टम

वहीं, गुरुवार को लखनऊ में हुई हिंसा में मारे गए वकील के शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा। वीडियोग्राफी में वकील के शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा।

सपा सांसद पर केस

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध संभल में हुई हिंसा के मामले में पुलिस समाजवादी पार्टी सांसद शफीकुर्रहमान बर्क सहित 17 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। गुरुवार को नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने राज्य सरकार की दो बसों को नुकसान पहुंचाया था।

असम में इंटरनेट पर से बैन हटा लिया गया है।

लखनऊ में अलर्ट

यूपी के संभल और राजधानी लखनऊ में प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया। प्रदर्शनकार्रियों ने पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़ की, गाड़ियां फूंक दी, बसों और थाने में लगा दी। प्रदर्शन के बाद लखनऊ में अलर्ट बढ़ा दिया गया है। पूरे लखनऊ को 32 सेक्टरों में बांटा गया है, जहां मजिस्ट्रेट तैनात किए जाएंगे। लखनऊ का प्रशासन सभी इमामों से बात करेगा और शांति की अपील की जाएगी।

यह भी पढ़ें...CAA: विरोध की आग में जला तहजीब का शहर, जानें दिनभर कहां क्या हुआ?

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद, लखनऊ, संभल, अलीगढ़, मेरठ, सहारनपुर, बरेली, आगरा, पीलीभीत, प्रयागराज, मऊ, आजमगढ़, फिरोजाबाद, हमीरपुर समेत कई जिलों में इंटरनेट की सुविधा बंद कर दी गई है। उत्तर प्रदेश में पहले से ही धारा 144 लागू है। तो वहीं नोएडा की डीएम बीएन सिंह ने कहा कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा में इंटरनेट बन्द नहीं करेंगे। उपद्रवियों पर नजर रखी जा रही है। अगर किसी ने हिंसा फैलाने की कोशिश की तो सख्त कार्यवाही की जाएगी।

यह भी पढ़ें...जवानों को अकेले पाकर टूट पड़े दंगाई, तस्वीरें देखकर खौल जाएगा खून

कर्नाटक के बेंगलुरु में शुक्रवार को भी नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। एहतियात के तौर पर पुलिस की ओर से धारा 144 लगाई गई है। गौरतलब है कि गुरुवार को भी कर्नाटक में काफी बवाल मचा था और मंगलौर में प्रदर्शन के दौरान दो की मौत भी गई थी।

यह भी पढ़ें...हिंसा करने वालों की अब खैर नहीं, सीएम योगी ने लिया बड़ा एक्शन

नागरिकता कानून के खिलाफ दिल्ली में गुरुवार को बवाल मच गया था। गुरुवार को दिल्ली मेट्रो के 19 स्टेशनों को बंद कर दिया गया था, इसके अलावा शहर के कुछ क्षेत्रों में मोबाइल सेवा (इंटरनेट-कॉलिंग-SMS) की सुविधा रोक दी गई थी। जंतर-मंतर, मंडी हाउस, लाल किला समेत कई क्षेत्रों में हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी सैकड़ों की संख्या में विरोध किया।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story