×

CM ममता ने मोदी सरकार को लिखा पत्र, सुभाष चंद्र बोस पर की ये बड़ी मांग

नेताजी सुभाष चंद्र बोस से संबंधित जो भी महत्वपूर्ण फाइलें हैं उसे जल्द ही सार्वजनिक करें। ममता बनर्जी ने साथ ही नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती को लेकर बड़ा ऐलान किया है।

suman

sumanBy suman

Published on 4 Jan 2021 2:12 PM GMT

CM ममता ने मोदी सरकार को लिखा पत्र, सुभाष चंद्र बोस पर की ये बड़ी मांग
X
तृणमूल कांग्रेस छात्र परिषद (टीएमसीपी) के कई कार्यकर्ताओं ने कॉलेज के सामने सड़क बाधित कर दी और आरोप लगाया कि झड़प में उसके कई सदस्य घायल हो गए हैं। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि हालात अब काबू में हैं।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में इसी साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। जिसको लेकर राज्य में राजनिति सरगर्मी बढ़ गई है। यहां विभिन्न राजनीतिक पार्टियों के नेता तरह तरह के मुद्दे उठा रहे हैं। सीएम ममता बनर्जी ने भी केंद्र की मोदी सरकार से पत्र लिखकर महत्वपूर्ण मांग की है।

इस पत्र में ममता बनर्जी ने सोमवार केंद्र की मोदी सरकार से मांग करते हुए कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस से संबंधित जो भी महत्वपूर्ण फाइलें हैं उसे जल्द ही सार्वजनिक करें। ममता बनर्जी ने साथ ही नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती को लेकर बड़ा ऐलान किया है।

'देश नायक दिवस'

ममता बनर्जी ने सोमवार को इस संबंध में अपने पत्र और राज्य सरकार के फैसले से जुड़ी तमाम जानकारियां दीं। उन्होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती को लेकर एक बड़ी घोषणा भी की। उन्होंने कहा कि बंगाल में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर 'देश नायक दिवस' मनाया जाएगा।

यह पढ़ें...हमने सरकार को बता दिया, कानून वापसी नहीं, तो घर वापसी नहीं- राकेश टिकैत

शंख फूंकने की अपील

उन्होंने इस दौरान कहा कि व्यक्तिगत रूप से लगता है कि हमने आजादी के बाद नेताजी सुभाष चंद्र बोस के लिए कुछ भी महत्वपूर्ण कार्य नहीं किया है। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती (23 जनवरी) को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने के लिए केंद्र को पत्र लिखा है और यह हमारी मांग है। उन्होंने कहा कि अनिवासी भारतीयों सहित देश के सभी नागरिकों से अपील करती हूं कि नेताजी की जयंती पर यानि 23 जनवरी को दोपहर 12:15 बजे शंख फूंके।

mamta banergee

सरकार की मंशा साफ

पश्चिम बंगाल के पूर्व मेदिनीपुर जिले में टीएमसीपी और एबीवीपी से जुड़े छात्रों के बीच सोमवार को झंडे और पोस्टर लगाए जाने को लेकर झड़प हुई। झड़प के दौरान कई मोटरसाइकिलों में आग लगा दी गई और बम फेंके गए।राज्य में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस पार्टी की छात्र शाखा तृणमूल कांग्रेस छात्र परिषद (टीएमसीपी) के कई कार्यकर्ताओं ने कॉलेज के सामने सड़क बाधित कर दी और आरोप लगाया कि झड़प में उसके कई सदस्य घायल हो गए हैं। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि हालात अब काबू में हैं।

यह पढ़ें...दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग द्वारा अयोध्या में लगेगा शिविर, बटेंगे कृत्रिम अंग

नए कृषि कानून पर ममता बनर्जी ने कहा कि वे किसानों के पक्ष में है और तीन बिलों को वापस लेने की मांग करती है। उन्होंने कहा कि उनकी राजनीतिक मंशा स्पष्ट है और इसीलिए वे इसे वापस नहीं ले रहे हैं।

suman

suman

Next Story