किसान आंदोलन पर कांग्रेस सांसद का बहुत बड़ा खुलासा, जानकर उड़ जाएंगे होश

कांग्रेस सांसद रवनीत बिट्टू ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि किसानों के प्रदर्शन में खालिस्तान आंदोलन से जुड़े कुछ लोगों के अलावा बाकी असामाजिक तत्व भी शामिल हैं। कांग्रेस सांसद ने आरोप लगाया कि किसानों के आंदोलन में दो-चार लोग खालिस्तान आंदोलन से जुड़े भी शामिल हैं।

Farmers Protest

किसान आंदोलन पर कांग्रेस सांसद का बहुत बड़ा खुलासा, जानकर उड़ जाएंगे होश (फोटो: सोशल मीडिया)

नई दिल्ली: कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन जारी है। मंगलवार को किसानों और केंद्र सरकार के बीच बैठक हुई, लेकिन करीब चार घंटे तक चली ये बठक बेनतीजा रही है। अब एक बार फिर किसान संगठनों और सरकार के बीच तीन दिसंबर को बातचीत होगी। किसानों के आंदोलन में खालिस्तान आंदोलनकारियों के भी शामिल होने के आरोप लग रहे हैं।

अब इस बीच लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत बिट्टू ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि किसानों के प्रदर्शन में खालिस्तान आंदोलन से जुड़े कुछ लोगों के अलावा बाकी असामाजिक तत्व भी शामिल हैं। कांग्रेस सांसद ने आरोप लगाया कि किसानों के आंदोलन में दो-चार लोग खालिस्तान आंदोलन से जुड़े भी शामिल हैं।

कांग्रेस सांसद का कहना है कि जो लोग दूसरे जहां प्रदर्शन में असफल हुए हैं वो भी इसकी आड़ में फायदा उठाने की कोशिश कर रहे हैं। कांग्रेस सांसद ने कहा कि जो लोग कहीं ना कहीं प्रदर्शन में फेल हुए हैं चाहे वह यूनिवर्सिटी का हो या कोई और प्रदर्शन हो वे किसानों का फायदा उठाना चाहते हैं।

ये भी पढ़ें…किसान आन्दोलन: बाबा रामदेव ने दिया ऐसा बयान, सरकार की बढ़ सकती हैं मुश्किलें

Congress MP Ravneet Bittu

रवनीत बिट्टू ने कहा कि मीडिया की कवरेज करने जा रही लड़कियों को गालियां दी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि यह कैसा पंजाब है, पंजाब के लोग ऐसा नहीं कर सकते। पंजाब का किसान ऐसा नहीं कर सकता। ठोक देंगे जैसी भाषा पंजाब की नहीं, ऐसी भाषा बोलने वाले असामाजिक है। उन्होंने कहा कि क्या कोई किसान बोल सकता है कि प्रधानमंत्री को ठोक देंगे या किसी को ठोक देंगे? इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हत्या और बलात्कार के मामले में दर्ज लोगों को मैंने देखा है जो प्रदर्शन में घूम रहे हैं।

ये भी पढ़ें…मिसाइल से कांपे देश: भारत को मिली सबसे बड़ी जीत, दुश्मनों का नामों-निशान खत्म

किसानों का आंदोलन शांतिपूर्ण

कांग्रेस सांसद का कहना है कि किसान शांतिपूर्ण तरीके से बैठे हैं और जब 3 महीने आंदोलन पंजाब में चला तो कहीं भी कुछ नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार ने सुनिश्चित किया था कि किसान का प्रदर्शन शांतिपूर्ण हो। हर जगह ट्रैक्टर ट्रॉली के साथ 5 हज़ार से 50 हज़ार लोग खड़े हैं और ये लोग आम किसान है। नेताओं को आगे आकर कंट्रोल करना चाहिए, क्योंकि बहुत लोग इस सबको असफल करना चाहते हैं।

ये भी पढ़ें…भाजपा के इस दिग्गज नेता का निधन, पार्टी में शोक की लहर, पीएम मोदी ने जताया दुख

”सिर्फ अमित शाह खत्म करा सकते हैं आंदोलन”

लुधियाना से कांग्रेस सांसद ने कहा कि अगर प्रदर्शन को रोका नहीं गया तो यह बढ़ता जाएगा। सिर्फ अमित शाह ही इस प्रदर्शन को रुकवा सकते हैं। यह किसानों के मन में है। उन्होंने कहा कि अमित शाह ही प्रदर्शन को रोक सकते हैं। न कृषि मंत्री का किसान यकीन कर रहे हैं या किसी और का।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App